Sunday , October 22 2017
Home / Khaas Khabar / मस्जिद ए अक्सा के करीब पुलिस पर संगबारी ( पत्थर बरसाए)

मस्जिद ए अक्सा के करीब पुलिस पर संगबारी ( पत्थर बरसाए)

फ़लस्तीनी एहितजाजियों ने यहूदी और ईसाई सय्याहों के मस्जिद ए अक़्सा के अहाता में दाख़िला के मौक़ा पर उनकी हिफ़ाज़त पर मामूर पुलिस पर संगबारी की और जूते फेंकें। एक ओहदेदार मामूली सा ज़ख्मी हुआ जिसका बरसर मौक़ा ईलाज किया गया। क़ब्ल अज़ीं

फ़लस्तीनी एहितजाजियों ने यहूदी और ईसाई सय्याहों के मस्जिद ए अक़्सा के अहाता में दाख़िला के मौक़ा पर उनकी हिफ़ाज़त पर मामूर पुलिस पर संगबारी की और जूते फेंकें। एक ओहदेदार मामूली सा ज़ख्मी हुआ जिसका बरसर मौक़ा ईलाज किया गया। क़ब्ल अज़ीं पुलिस को यहूदी और मुस्लिम ग्रुप्स की झड़पों के अंदेशे के पेश नज़र सख़्त चौकसी की हालत में रखा गया था ।

ये चौकसी उस वक़्त इख़तियार की गई जबकि मुख़्तलिफ़ मुस्लिम ग्रुप्स ने ऑन लाईन अपीलें शाय कीं और अवाम पर ज़ोर दिया कि मस्जिद ए अक्सा के तहफ़्फ़ुज़ के लिए मस्जिद पहुंच जाएं। एक यहूदी ग्रुप ने जो दाएं बाज़ू के इंतेहापसंदों पर मुश्तमिल था। मस्जिद के दौरा का मंसूबा बनाया था।

मस्जिद ए अक़्सा के अतराफ़ पुलिस तैनात कर दी गई थी। मुख़्तलिफ़ इंटरनेट साईट्स पर सय्याहों के ग्रुप्स से मुतालिबा करने के बाद कि मस्जिद अक़्सा के तहफ़्फ़ुज़ के लिए वहां पहुंच जाएं। पूरे क़दीम शहर येरूशलम में पुलिस तैनात कर दी गई थी। ए एफ पी के बमूजब 15 गाड़ियां जो पुलिस की नहीं थीं, मग़रिबी दीवार के करीब खड़ी की गई थीं।

पुलिस ने कहा कि ये वाज़िह नहीं हो सका कि गड़बड़ का आग़ाज़ कब हुआ। ताहम फ़लस्तीनी ऐनी शाहिदीन के बमूजब जूते फेंकने वाले मज़हबी यहूदीयों को निशाना बना रहे थे जो ईसाई सय्याहों के ग्रुप्स में शामिल होकर मस्जिद ए अक्सा में दाख़िल होने की कोशिश कर रहे थे।

मस्जिद ए अक्सा यरूशलम का मुक़द्दस तरीन मुक़ाम है ताहम यहूदीयों को यहां इबादत करने की इजाज़त नहीं है। दाएं बाज़ू के यहूदी अरबों की अपील से जो उन्होंने मस्जिद ए अक़्सा के तहफ़्फ़ुज़ के लिए वेब साईट्स पर शाय की थी, वहां पहुंच गए थे। मस्जिद ए अक़्सा आज पुरसुकून रही।

हालाँकि दाएं बाज़ू के इंतेहापसंद यहूदीयों और मस्जिद के मुस्लियों के दरमियान झड़प हुई । पुलिस उस वक़्त तैयार हो गई जबकि संगबारी का वाक़िया पेश आया। पुलिस ने यरूशलम के पड़ोसी इलाक़ा में रातों रात धावे करते हुए चार दाएं बाज़ू के इंतेहापसंदों को गिरफ़्तार कर लिया और मस्जिद ए अक़्सा के बारे में इश्तिआल अंगेज़ लिटरेचर ज़ब्त कर लिया।

एक कारकुन से पूछताछ जारी है, जिसने कहा कि ये हमारा हैकल सुलेमानी है। मस्जिद ए अक़्सा आज मुस्लमान सय्याहों के लिए खुली रखी गई थी। हालाँकि तैनात पुलिस की तादाद में बहुत ज़्यादा इज़ाफ़ा कर दिया गया था। मंगल की दोपहर कई अरब नौजवानों ने सय्याहों की हिफ़ाज़त पर तैनात पुलिस जमात पर संगबारी की और जूते फेंकें।

एक इंतिहापसंद (क्राँतीकारी) फ़ै ग्लेन दीगर दो कारकुनों के साथ मस्जिद ए अक़्सा में दाख़िल होने की कोशिश कर रहा था लेकिन पुलिस ने इसकी जानिब से यहूदीयों को उकसाने के अनुदेशों के तहत उसे दाख़िल होने से रोक दिया।

TOPPOPULARRECENT