Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / महबूबनगर के ज़िमनी इंतिख़ाबी तल्ख़ीयां ख़त्म‌ करने की कोशिश

महबूबनगर के ज़िमनी इंतिख़ाबी तल्ख़ीयां ख़त्म‌ करने की कोशिश

हैदराबाद।०५ अगस्त:(सियासत न्यूज़): महबूबनगर ज़िमनी इंतिख़ाबात के पेश ख़तन करने के लिए तेलंगाना ज्वाइंट ऐक्शन‌ कमेटी के चीर मन प्रोफ़ैसर को दंड इराम आज मुस्लिम जे ए सी चीरमन-ओ-सदर तहरीक मुस्लिम शबान मुश्ताक़ मुल़्क की क़ियामगाह

हैदराबाद।०५ अगस्त:(सियासत न्यूज़): महबूबनगर ज़िमनी इंतिख़ाबात के पेश ख़तन करने के लिए तेलंगाना ज्वाइंट ऐक्शन‌ कमेटी के चीर मन प्रोफ़ैसर को दंड इराम आज मुस्लिम जे ए सी चीरमन-ओ-सदर तहरीक मुस्लिम शबान मुश्ताक़ मुल़्क की क़ियामगाह वाक़्य ओलडमुलक पेट पहुंचे जहां पर दोनों तंज़ीमों का एक अहम और मुशतर्का इजलास मुनाक़िद किया गया जिस के बाद इफ़तार और ताम का भी एहतिमाम किया गया था।

बादअज़ां को दंड इराम ने कहाकि जे ए सी के मुजव्वज़ा एहितजाजी प्रोग्रामों को कामयाब बनाने के लिए जय ए सी मुख़्तलिफ़ तंज़ीमों से मुशावरत कररही है और जो ना इत्तिफ़ाक़ीयाँ महबूबनगर ज़िमनी इंतिख़ाबात के बाद पेश आई हैं इस को दूर करने कोशां है उन्हों ने कहाकि सकीवलरज़हन का फ़रोग़ के साथ तेलंगाना तहरीक को मज़बूत करना ही तेलंगाना ज्वाइंट ऐक्शन‌ कमेटी का मक़सद है ताकि मुस्तक़बिल में एक सुनहरी और सकीवलर तेलंगाना का क़ियाम अमल में लाया जा सके उन्हों ने मज़ीद कहाकि तलंगाना जवाइंट ऐक्शण कमेटी के मुजव्वज़ा एहितजाजी प्रोग्राम चलो हैदराबाद जिस का इनइक़ाद 30 सितंबर कोहे को कामयाब बनाने के लिए मुस्लिम जे ए सी के बिशमोल दीगर तमाम मुस्लिम और ग़ैर मुस्लिम तलंगाना हामी तंज़ीमों से जय ए सी की मुशावरत का सिलसिला जारी ही।

मुश्ताक़ मलिक ने प्रोफ़ैसर को दान्ड राम का इस्तिक़बाल करते हुए कहाकि मुस्लिम जे ए सी तलंगाना ज्वाइंट ऐक्शन‌ कमेटी का भरपूर तआवुन करने के लिए हमेशा तैय्यार है मगर दबाव के हालात में मुस्लमानों के जज़बात का एहतिराम करना भी तलंगाना जवाइंट ऐक्शण कमेटी की ज़िम्मेदारी है ।

मौलाना सय्यद तारिक़ कादरी ऐडवोकेट वजनरल सैक्रेटरी सूफ़ी एकेडेमी ने भी जय ए सी चीर मन को दान्ड राम की जानिब से की जा रही पहल का सताइश करते हुए कहाकि सकीवलर तलंगाना के क़ियाम के लिए हिन्दू मुस्लिम दानिश्वर इन का जानिब से इस किस्म की शुरूआत दरकार है जो तलंगाना के मुस्लमानों में पाई जाने वाली बेचैनी को दूर करने में मुआविन साबित हो सकी।

मौलाना हामिद शतारी रहीम उल्लाह ख़ान नियाज़ी शहबाज़ अली ख़ान अमजद शहनवाज़ ख़ान के इलावा तलंगाना तहरीक में सरगर्म दीगर तंज़ीमों के सरबराहान भी इस मौक़ा पर मौजूद थी।

TOPPOPULARRECENT