Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / महबूब नगर में मुस्लिम उम्मीदवार को शिकस्त देने बी जे पी मैदान में

महबूब नगर में मुस्लिम उम्मीदवार को शिकस्त देने बी जे पी मैदान में

असेंबली हलक़ा महबूब नगर का ज़िमनी इंतेख़ाबात मुस्लमानों के वक़ार का इम्तेहान है । ज़िमनी इंतेख़ाबात में टी आर एस के वाहिद मुस्लिम उम्मीदवार मिस्टर सय्यद इब्राहीम के ख़िलाफ़ बी जे पी ने अपने उम्मीदवार को इंतिख़ाबी मैदान में उ

असेंबली हलक़ा महबूब नगर का ज़िमनी इंतेख़ाबात मुस्लमानों के वक़ार का इम्तेहान है । ज़िमनी इंतेख़ाबात में टी आर एस के वाहिद मुस्लिम उम्मीदवार मिस्टर सय्यद इब्राहीम के ख़िलाफ़ बी जे पी ने अपने उम्मीदवार को इंतिख़ाबी मैदान में उतारा है जबकि माबाक़ी 5 हलक़ों के ज़िमनी इंतेख़ाबात में अभी तक बी जे पी ने उम्मीदवार मैदान में उतारने का कोई फैसला नहीं किया है । सिवाए शहर हैदराबाद के इलाक़े तेलंगाना से असेंबली में मुस्लमानों की कोई नुमाइंदगी नहीं है । तेलंगाना के 6 असेंबली हलक़ों के ज़िमनी इंतेख़ाबात में कांग्रेस तेलगुदेशम सी पी एम के इलावा दूसरी किसी जमात ने मुस्लिम क़ाइद को टिकट नहीं दिया ।

टी आर एस ने 2009 के आम इंतेख़ाबात में सिर्फ मामूली वोटों से शिकस्त से दो-चार मिस्टर सय्यद इब्राहीम को ज़िमनी इंतेख़ाबात में दुबारा अपना उम्मीदवार बनाया है । हर सियासी जमात से मुस्लमानों की जिस तरह वाबस्तगी ज़रूरी है उस तरह इलाक़ा तेलंगाना अज़ला से मुस्लमानों की असेंबली में क्या नुमाइंदगी ज़रूरी नहीं है इस पर तमाम मुस्लमानों को सियासत से बालातर होकर ग़ौर-ओ-फ़िक्र करने की ज़रूरत है । ज़िमनी इंतेख़ाबात में सिर्फ टी आर एस एसी जमात है जिस ने 6 के मिनजुमला एक असेंबली हलक़ा महबूब नगर से मुस्लमान को उम्मीदवार बनाया है।

अगर दूसरी जमाअतें मुस्लमानों को उम्मीदवार बनातीं तो उसे में मुक़ाबला करने वाले मुस्लिम उम्मीदवारों के बारे में ग़ौर करने की गुंजाइश होती लेकिन ज़िमनी इंतेख़ाबात में किसी भी जमात ने ग़ौर-ओ-फ़िक्र की गुंजाइश ही नहीं रखी है । अलहदा तेलंगाना रियासत की तहरीक में मुस्लमान भी शामिल हैं। तेलंगाना तहरीक से मुस्लमानों की वाबस्तगी का सबूत देने केलिए मुस्लमानों ने असेंबली हलक़ा निज़ाम आबाद के ज़िमनी इंतेख़ाबात में कांग्रेस के उम्मीदवार मिस्टर डी सिरि निवास और बी जे पी के उम्मीदवार मिस्टर लक्ष्मी ना रायना को कामयाब बनाने में अहम रोल अदा किया है,

बी जे पी बदले में महबूब नगर से मुक़ाबला करने वाले टी आर एस उम्मीदवार मिस्टर सय्यद इब्राहीम को कामयाब बनाने के बजाय महज़ मुस्लिम उम्मीदवार को शिकस्त देने केलिए टी आर एस के साबिक़ ज़िला महबूब के सदर वाई सरीनवा सल्लू को अपना उम्मीदवार बनाया है और दूसरे हलक़ों से मुक़ाबला नहीं कररही है। इन दोनों मिसालों को सामने रखते हुए मुस्लमान महबूब नगर को फैसला करने की ज़रूरत है।

तेलंगाना जवाइंट एक्शन कमेटी में मुस्लमान भी शामिल हैं ताहम असेंबली हलक़ा महबूब नगर के मुआमले में तेलंगाना जवाइंट एक्शन कमेटी जहां बी जे पी को इंतिख़ाबी सियासत से दूर रखने में नाकाम हुई है वहीं ज़िला महबूब नगर जे ए सी भी मिस्टर सय्यद इब्राहीम के ख़िलाफ़ मुक़ाबला करने की हिक्मत-ए-अमली तय्यार कररही है ।

TOPPOPULARRECENT