Saturday , October 21 2017
Home / Khaas Khabar / बकरीद आते ही गौरक्षकों पर महाराष्ट्र सरकार का शिकंजा

बकरीद आते ही गौरक्षकों पर महाराष्ट्र सरकार का शिकंजा

मुंबई : बीफ़ रखने के नाम पर गौरक्षकों द्वारा अवैध तलाशी की महाराष्ट्र पुलिस को काफी शिकायतें मिल रही थी, इसलिए नए कानून के तहत डीजीपी ऑफिस से एक सर्कुलर जारी किया गया है. सर्कुलर में बकरीद के मौके पर या उससे पहले भी क्या करें और क्या न करें की एक लिस्ट भी जारी की गई है. सरकार ने राज्य पुलिस को हिदायत दिया है की इस बारे में मिल रही शिकायतों को संजीदगी से लें. कहा गया की अगर कोई व्यक्ति ‘महाराष्ट्र एनिमल प्रिजरवेशन (संशोधित) ऐक्ट 2015’ का उल्लंघन करता पाया जाता है तो गोरक्षक खुद कोई कार्रवाई ना करके इसकी इत्तिला पुलिस को दें, ताकि इस पर उचित कार्रवाई की जा सके. ऐसा नहीं करने पर गौरक्षकों पर महाराष्ट्र एनिमल प्रिजरवेशन (संशोधित) ऐक्ट 2015 के तहत कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र डीजीपी कार्यालय द्वारा जारी दो पन्नो सर्कुलर में साफ़ कहा गया है कि, “अगर गोरक्षकों को गोमांस के मुद्दे पर कोई भी जानकारी मिलती है तो वह जानकारी स्थानीय पुलिस स्टेशन और ड्यूटी अधिकारी को देनी चाहिए. बीफ की तलाशी के दौरान आम जनता को कोई तकलीफ ना हो इसे ध्यान में रख कर कई सिफारिशें के साथ- साथ पुलिस के लिए भी कई दिशानिर्देश दिए हैं.

TOPPOPULARRECENT