Sunday , September 24 2017
Home / AP/Telangana / महिकमा अक़लियती बहबूद के कुल हिंद मुशायरा शाम ग़ज़ल का कामयाब इनइक़ाद

महिकमा अक़लियती बहबूद के कुल हिंद मुशायरा शाम ग़ज़ल का कामयाब इनइक़ाद

हैदराबाद 03 जून:तेलंगाना के दूसरे यौमे तासीस के मौके पर महिकमा अक़लियती बहबूद की तरफ से तेलंगाना अवाम के लिए तफ़रीही प्रोग्राम मुनाक़िद किए गए जिनमें कुल हिंद मुशायरा, शाम ग़ज़ल और महफ़िल क़व्वाली का एहतेमाम किया गया।

शहर के मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर इन प्रोग्राम्स से अवाम लुतफ़ अंदोज़ हुए। क़ुली क़ुतुब शाह स्टेडीयम में मुनाक़िदा कुल हिंद मुशायरा में बैरूनी-ओ-मुक़ामी शोअरा ने कलाम पेश किए। ये मुशायरा चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ की ज़ेर सरपरस्ती मुनाक़िद हुआ, सदारत मुहम्मद महमूद अली डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर करने वाले थे, मुशायरे में वुज़रा-ओ-अरकान पार्लीमान-ओ‍दुसरें को मेहमान-ए-ख़ोसूसी-ओ-एज़ाज़ी मदऊ किया गया था लेकिन मुक़ामी रुकने असेंबली के सिवा कोई मेहमान मौजूद नहीं थे। मुशायरे में दाद-ओ-तहसीन पाने वाले शोअरा में जोहर कानपुरी, माजिद देवबंदी, हामिद भनसावली, लता हया, शबीना अदीब, ज़िया टोनकी, रईस क़ासिमी, के अलावा इबराहीम शामिल हैं।

मुशायरे में ए के ख़ां डायरेक्टर जनरल एंटी करप्शन ब्यूरो के अलावा डॉ एस ए शकूर डायरेक्टर सेक्रेटरी उर्दू एकेडेमी ने शिरकत की जबकि निज़ामत के फ़राइज़ असलम फ़रशूरी ने अंजाम दिए। महिकमा अक़लियती बहबूद की तरफ से मुनाक़िदा कुल हिंद मुशायरा के बाब उल-दाख़िलों पर अवाम के अज़धाम को रोकने को तायिनात किया गया था जिससे अवाम में ब्रहमी देखी गई।

इंडोर स्टेडीयम फ़तह मैदान में शाम ग़ज़ल का इनइक़ाद अमल में लाया गया जहां मारूफ़ फ़नकार तलअत अज़ीज़ ने अपनी आवाज़ का जादू जगा कर सामईन को मस्हूर कर दिया। यहां मौजूद अहम शख़्सियात में उम्र जलील सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद, ए के ख़ां और दुसरे शामिल हैं।

TOPPOPULARRECENT