Monday , August 21 2017
Home / Khaas Khabar / माली अटैक में भारतीय मूल की अमेरिकी महिला अनीता की मौत

माली अटैक में भारतीय मूल की अमेरिकी महिला अनीता की मौत

वाशिंगटन,
माली के एक होटल पर आतंकवादी हमले में मरे 27 लोगों में भारतीय मूल की एक अमेरिकी नागरिक भी शामिल है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किरबी ने बताया कि कल के हमले में एकमात्र जिस अमेरिकी नागरिक की मौत हुई, वह अनीता अशोक दातार (41) हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने कल एक ट्वीट में कहा कि हम माली हमलों में मरी अमेरिकी अनीता दातार और दूसरे लोगों की मौत पर शोक व्यक्त करते हैं। केरी ने कहा, हम परिवार और मित्रों से संवेदना जताते हैं और माली के अवाम के साथ खड़े हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के माध्यम से जारी एक बयान में दतार के परिवार ने कहा कि वह इस खबर से दुखी हैं। परिवार ने कहा, हम दुखी हैं कि अनीता चली गई – हम नहीं मान पा रहे हैं कि वह हिंसा और आतंकवाद के हमले में मारी गई। अनीता वाशिंगटन डीसी के उपनगर मेरीलैंड के टकोमा पार्क में रहती थीं।

बयान में कहा गया है, हम जिन्हें जानते थे उनमें अनीता सबसे रहमदिल और सबसे उदार थीं। वह अपने परिवार और अपने काम से बेहद प्यार करती थी। बयान में कहा गया है, मां, लोक स्वास्थ्य विशेषज्ञ, बेटी, बहन और दोस्त के रूप उन्होंने जो कुछ अपने जीवन में किया, उन्होंने दूसरों की मदद के लिए किया।

अनीता मैसाचुसेट्स में पैदा हुईं। उनका लालन पालन उत्तरी न्यू जर्सी में हुआ। उन्होंने कोलंबिया यूनिवर्सिटी के जोसफ मेलमैन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ और स्कूल ऑफ इंटरनेशनल ऐंड पब्लिक अफेयर्स से एमपीएच और एमपीए किया। अनीता ने 1997 से ले कर 1999 तक पीस कोर के साथ सेनेगल में काम किया। उन्होंने आबादी और प्रजनन स्वास्थ्य, परिवार नियोजन एवं एचआईवी पर ध्यान केन्द्रित करते हुए अपने केरियर का ज्यादातर वक्त वैश्विक स्वास्थ्य एवं अंतरराष्ट्रीय विकास पर लगाया।

वह पैलेडियम ग्रुप की सीनियर मैनेजर और टुलालेंस की संस्थापक सदस्य थी। टुलालेंस एक मुनाफा रहित संगठन है जो सहूलियत से दूर कामों को को बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं से जोड़ता है।

TOPPOPULARRECENT