Monday , August 21 2017
Home / Crime / मालेगांव बम ब्लास्ट मे यू टर्न, कानून का मज़ाक है : ओवैसी

मालेगांव बम ब्लास्ट मे यू टर्न, कानून का मज़ाक है : ओवैसी

हैदराबाद -मीम MLA अकबर्रुद्दीन ओवैसी ने NIA पर गैर मुस्लिम मुल्ज़िम पे नर्म रुख अख्तियार करने का इल्जाम लगाया है

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा कि NIA ने जिस प्रकार मालेगांव बम ब्लास्ट में यू-टर्न लिया है वो कानून का मज़ाक बनाने जैसा है उन्होंने भारत हुकुमत से मालेगांव बम ब्लास्ट में गिरफ्तार मुस्लिम नौजवानों की रिहाई की अपील की है .

उनका कहना था NIA का केस में यू टर्न अपने सियासी आकाओं के इशारे पे हुआ है साथ ही एजेंसी का बर्ताव कानून का मजाक है इस केस में एजेंसी ने यूटर्न लेके अपने रवैय्ये को जोक के जैसा बना दिया है .

मालेगाँव बम ब्लास्ट में दो साल पहले जाँच एजेंसी ने नौ गिरफ़्तार मुसलमानों के बारे में मकोका कोर्ट में कहा था कि इनके ख़िलाफ़ कोई साबुत नही है लेकिन अब NIA ने इन नौ नौजवानों को क्लीन चिट देने से इनकार कर दिया है

इस केस में जिन मुसलमान लडको पे मुक़दमा चल रहा है उनके नाम है नूरुल हुदा ,शब्बीर अहमद ,राईस अहमद ,सलमान फ़ारसी ,फरोघ मग्दुमी ,शैख़ मौहम्मद अली ,आसिफ खान ,मौहम्मद जाहिद और अबरार अहमद .
इन सभी मुल्ज़िम को नवम्बर 2011 में जमानत मिली थी .

मालेगांव बम ब्लास्ट में 37 लोगो की मौत और 100 से ज्यादा लोग घायल हुये थे .

TOPPOPULARRECENT