Sunday , October 22 2017
Home / India / माल बर्दारी के लिए अनक़रीब रेलवे राहदारी का क़ियाम

माल बर्दारी के लिए अनक़रीब रेलवे राहदारी का क़ियाम

नई दिल्ली, 22 फ़रवरी: माल बर्दारी के लिए मख़सूस रेलवे राहदारी के एक हज़ार किलो मीटर फ़ासले पर काम जारी है, और इमकान हैकि ये जल्द ही शुरू करदी जाएगी और हुकूमत असरी स्टेशनों को मुल्क गीर सतह पर क़ायम करने के पराजेक्ट्स का भी आग़ाज़ करेगी। माल

नई दिल्ली, 22 फ़रवरी: माल बर्दारी के लिए मख़सूस रेलवे राहदारी के एक हज़ार किलो मीटर फ़ासले पर काम जारी है, और इमकान हैकि ये जल्द ही शुरू करदी जाएगी और हुकूमत असरी स्टेशनों को मुल्क गीर सतह पर क़ायम करने के पराजेक्ट्स का भी आग़ाज़ करेगी। माल बर्दारी राहदारी को एक पुर अज़्म मीगापराजेक्ट क़रार देते हुए सदर जमहूरिया परनब मुकर्जी ने पार्लियामेंट के अपने ख़िताब के दौरान कहा कि एक हज़ार किलो मीटर से ज़्यादा लम्बाई रास्ते का काम शुरू हो चुका है।

परनब मुकर्जी ने कहा कि ये पराजेक्ट मशरिक़ी और मग़रिबी साहिलों को मुल्क के दाख़िली हिस्से से गुज़रते हुए मरबूत करेगा और 3,300 किलो मीटर तवील रेलवे पटरियां इस के लिए नसब की जाएंगी। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान दुनिया भर की शहरी हवाबाज़ी मंडी में नौवीं सरे फ़हरिस्त मुक़ाम पर है। उन्होंने कहा कि कोलकता और चेन्नई एयरपोर्ट्स में नए टर्मिनल्स क़ायम किए जा चुके हैं।

हुकूमत ने उसूली एतबार से ग्रीन फ़ील्ड एयरपोर्ट्स आरनमोला केरला में क़ायम करने की मंज़ूरी दी है। इस के इलावा नई मुंबई गोवा के शहर मोपा और केरला के शहर कंवर में भी ग्रीन एयरपोर्ट क़ायम किए जाऐंगे। सदर जमहूरिया ने कहा कि अवामी। ख़ान्गी शराकतदारी का पहले और आख़री मरहले के पराजेक्ट्स और रेलवे स्टेशनों के क़ियाम के लिए आग़ाज़ किया जा रहा है। एक जदीद तरीन कूच पैदावार फ़ैक्ट्री राय बरेली में क़ायम की जा चुकी है, ताकि जदीद तरीन स्टील के ट्रेन के डिब्बे तैयार किये जा सकें। बानी हाल। क़ाज़ी गुंड सुरंग जम्मू-ओ-कश्मीर में मुकम्मल हो चुकी है। उन्होंने कहा कि इस रास्ते पर रेलवे ख़िदमात के आग़ाज़ के लिए काम शुरू हो चुका है, और तेज़ी से पेशरफ़त कर रहा है।

TOPPOPULARRECENT