Tuesday , October 24 2017
Home / Islami Duniya / मिस्र में मुर्सी के हज़ारों हामियों का मार्च

मिस्र में मुर्सी के हज़ारों हामियों का मार्च

क़ाहिरा, जुलाई 20 ( एजेंसी ) मिस्र में सूरत-ए-हाल उस वक़्त फिर कशीदा हो गई है जब माज़ूल सदर मुहम्मद मुर्सी के हामियों ने सारे क़ाहिरा शहर में ज़बरदस्त एहतिजाज मुनज़्ज़म किया । एहतिजाजियों ने मुल्क के जम्हूरी तौर पर मुंतखिब सदर के ख़िलाफ़ फ़ौजी

क़ाहिरा, जुलाई 20 ( एजेंसी ) मिस्र में सूरत-ए-हाल उस वक़्त फिर कशीदा हो गई है जब माज़ूल सदर मुहम्मद मुर्सी के हामियों ने सारे क़ाहिरा शहर में ज़बरदस्त एहतिजाज मुनज़्ज़म किया । एहतिजाजियों ने मुल्क के जम्हूरी तौर पर मुंतखिब सदर के ख़िलाफ़ फ़ौजी बग़ावत की मुज़म्मत की जबकि मुर्सी के मुख़ालिफ़ीन की जानिब से भी इत्तेहादिया सदारती महल और तहरीर स्क़्वायर पर एहतिजाज किया जा रहा है ।

मुवाफ़िक़ मुर्सी एहतिजाज आज दोपहर क़ाहिरा यूनीवर्सिटी के बाहर मुनज़्ज़म किया गया । इसके इलावा रुबा मस्जिद क़ाहिरा में भी एहतिजाजी मुज़ाहिरा किया गया । यहां मुर्सी के हामी उनकी बेदखली के बाद से एहतिजाज कर रहे हैं। मुर्सी की हिमायत में होने वाले एहतिजाजी मुज़ाहिरों की हेलीकापटर्स के ज़रीया निगरानी की गई । रुबा अलादा मस्जिद के पास एहतिजाजी अक़देन ने मुज़ाहिरीन पर ज़ोर दिया कि वो करीबी रिपब्लिकन गार्ड हेड क्वार्टर्स की सिम्त मार्च करें।

इस मुक़ाम पर 8 जुलाई को मुर्सी के हामियों का फ़ौज के साथ तसादुम हुआ था जिस में 51 अफ़राद हलाक हो गए थे । एहराम आन लाइन अख़बार ने इत्तिला दी है कि सिपाहियों ने मुहम्मद मुर्सी के हज़ारों हामियों को रबा अलादा मस्जिद से दूर मुंतशिर कर दिया है । ये मुज़ाहिरीन अब्बासिया की सिम्त जमा हुए हैं जहां वज़ारत-ए-दिफ़ा है ।

कहा गया है कि हुकूमत की जानिब से सालिह सालिम रोड नस्र सिटी और मार्च के करीबी इलाक़ों में भारी तादाद में फ़ौज मुतय्यन कर दी गई है । इख़वान अलमुस्लिमीन के क़ाइदीन भी मार्च के साथ मौजूद हैं। एहतिजाजियों की जानिब से नारेबाज़ी की जा रही है । इख़वान अलमुस्लिमीन के तर्जुमान असीर मोहराज़ ने बताया कि मिस्री शहरियों ने आज मुर्सी की बेदखली के ख़िलाफ़ एहतिजाज किया है और उन्होंने जम्हूरी रास्ता और अपनी आज़ादी के ख़िलाफ़ फ़ौजी बग़ावत की मुज़म्मत की है ।

एक मारूफ़ मुसन्निफ़ मुहम्मद अबदुल क़ुद्दूस ने जो मुवाफ़िक़ मुर्सी मुज़ाहिरा में शरीक थे बताया कि ये एहतिजाज उस वक़्त तक जारी रहेगा जब तक मुहम्मद मुर्सी को बहाल नहीं किया जाता । एक और इत्तिला में कहा गया है कि मुहम्मद मुर्सी के हज़ारों हामियों ने अब्बासिया में दिमाग़ी अमराज़ के एक दवाख़ाना पर भी हल्ला बोल दिया ।

उन्होंने दवाख़ाना के गार्डन में एक कैंप बना लिया है । कहा गया है कि यहां तक़रीबा पाँच हज़ार मुज़ाहिरीन मौजूद हैं। उन्होंने दवाख़ाना के सिम्त आने और जाने वाले रास्तों को भी बंद क़र दिया है यहां भी मुर्सी के हामी नारे बाज़ी कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT