Wednesday , October 18 2017
Home / India / मुंबई बलदिया पर शिवसेना-बी जे पी इत्तेहाद का क़ब्ज़ा

मुंबई बलदिया पर शिवसेना-बी जे पी इत्तेहाद का क़ब्ज़ा

शिवसेना-बी जे पी इत्तेहाद में आज रात मुल़्क की मालदार तरीन मजलिस बलदिया मुंबई पर अपना क़ब्ज़ा बरक़रार रखा और थाने मजलिस बलदिया में रियासत के बरसर ए इक़्तिदार इत्तेहाद कांग्रेस । एन सी पी-ओ-ज़बरदस्त कामयाबी हासिल की जो शोलापुर, अमरावत

शिवसेना-बी जे पी इत्तेहाद में आज रात मुल़्क की मालदार तरीन मजलिस बलदिया मुंबई पर अपना क़ब्ज़ा बरक़रार रखा और थाने मजलिस बलदिया में रियासत के बरसर ए इक़्तिदार इत्तेहाद कांग्रेस । एन सी पी-ओ-ज़बरदस्त कामयाबी हासिल की जो शोलापुर, अमरावती और पिम्परी, चमचवाड़ , पर उसकी मजबूर गिरफ्त का नतीजा है। बी जे पी बलदी इंतेख़ाबात में सब से बड़ी वाहिद सयासी पार्टी बन कर उभरने के लिए तैयार है।

145 रुकनी नागपुर मजलिस बलदिया में उसे 125 नशिस्तों के नताइज के ऐलान के बाद उसे 56 नशिस्तें हासिल हो चुकी हैं। कांग्रेस 102 रुकनी शोलापुर मजलिस बलदिया ने सब से बड़ी पार्टी बन कर उभरी है और ऐसा मालूम होता है कि एन सी पी के साथ इत्तेहाद के ज़रीया मजलिस बलदिया पर इसका क़ब्ज़ा बरक़रार रहेगा हालाँकि भगवा इत्तेहाद अभी 114 की जादूई तादाद हासिल नहीं कर सका।

ताहम 227 रुकनी ब्रहन मुंबई मजलिस बलदिया में शिवसेना को 75 और बी जे पी को 32 नशिस्तें हासिल हो चुकी हैं। सादा अक्सरीयत के लिए उसे सिर्फ 7 नशिस्तों की ज़रूरत है जो वो आज़ाद और छोटी सयासी पार्टीयों के अरकान की ताईद के ज़रीया जिनकी तादाद 28 है, आसानी से हासिल कर सकती है।

कांग्रेस को 50, एन सी पी को सिर्फ 14 और राज ठाकरे की एम एन एस को 28 नशिस्तें हासिल हुई हैं जबकि 2007 के इंतेख़ाबात में उसे सिर्फ 7 नशिस्तें हासिल हुई थीं। चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्रा पृथ्वी राज चौहान ने नतीजा को हैरतअंगेज़ क़रार दिया। ताहम शिकस्त क़बूल कर ली।

उन्होंने कहा कि इंतेख़ाबी नतीजे हैरतअंगेज़ और ग़ैर मुतवक़्क़े है। 2007 में शिवसेना को 84 और बी जे पी को 28 नशिस्तें हासिल हुई थीं, लेकिन 4 आज़ाद अरकान की ताईद से उन्हें अक्सरीयत बरक़रार रखने में कामयाबी हुई थी। इस बार कांग्रेस और एन सी पी ने अलहदा अलहदा मुक़ाबला किया। समाजवादी पार्टी को 7 नशिस्तें हासिल हुई हैं और राज ठाकरे की एम एन एस ने अपनी नशिस्तों में इज़ाफ़ा कर लिया है।

TOPPOPULARRECENT