Friday , September 22 2017
Home / Jharkhand News / मुखिया से छुट्टी का फैसला नहीं बदला तो इस्तीफा देंगे डॉक्टर्स

मुखिया से छुट्टी का फैसला नहीं बदला तो इस्तीफा देंगे डॉक्टर्स

रांची : मुखिया से इजाजत लेकर छुट्टी लेने के मामले पर डॉक्टरों में जबर्दस्त गुस्सा है। सरकार के इस फैसले के मुखालिफत में इतवार को आईएमए झारखंड के बैनर तले गवर्नर हाउस मार्च निकाला गया। गवर्नर हाउस पहुंचने पर डॉक्टर्स और पुलिस के दरमियान हल्की झड़प भी हुई। इसके बाद 11 डॉक्टर्स की एक टीम ने प्रिन्सिपल सेक्रेटरी से मुलाकात की।
प्रिन्सिपल सेक्रेटरी ने डॉक्टर्स की बुध को चीफ़ सेक्रेटरी के साथ बैठक कराने की बात कही। जहां हुकूमत की तरफ से लिए गए फैसले की जानकारी दी जाएगी। वहीं, डॉक्टर्स का कहना है कि उनका तहरीक जारी है और हुकूमत ने हमारी मांग नहीं मानी तो पूरे रियासत के डॉक्टर्स दो नवम्बर को छुट्टी पर रहेंगे। वहीं, पांच नवंबर को डॉक्टर्स इस्तीफा देंगे।

इससे पहले मार्च जैसे ही गवर्नर हाउस पहुंचा, यहां हंगामा शुरू हो गया। खूब अफरातफरी मची। डॉक्टर चाहते थे कि मार्च में शामिल सभी लोग वजीरे आला रघुवर दास के साथ बातचीत करें। इसके बाद डॉक्टर बैरिकेडिंग तोड़कर आगे बढ़ गए। लेकिन, ड्यूटी पर तैनात मजिस्ट्रेट संजीव लाल ने इन्हें बताया कि सीएम रांची में नहीं है, उनके प्रिन्सिपल सेक्रेटरी से बातचीत हो सकती है।

काफी तादाद में खातून डॉक्टर भी मार्च में शामिल थीं। कियादत डॉ. एके सिंह, डॉ. विमलेश सिंह, डॉ. भारती कश्यप, डॉ. अजय कुमार सिंह, डॉ. शेखर चौधरी काजल समेत कई डॉक्टर्स ने किया। मार्च में पांच सौ से ज़्यादा डॉक्टर शामिल थे।

 

TOPPOPULARRECENT