Friday , October 20 2017
Home / Uttrakhand / मुख्यमंत्री को दिलायी मुस्लिम आरक्षण की याद

मुख्यमंत्री को दिलायी मुस्लिम आरक्षण की याद

संभल (मुरादाबाद ): मुस्लिम स्टूडेंट्स आर्गनाइज़ेशन आफ इंडिया की संभल यूनिट ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को पत्र लिखा है | जिसमें 2012 के विधान सभा चुनाव से पहले मुसलमानो से उनके द्वारा किए गये 18 प्रतिशत आरक्षण देने के वादे की याद दिलायी है | साथ ही मुसलमानो को प्रदेश में  आरक्षण देने की माँग की भी कि है|

अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य वसीम अख़्तर बरकाती ने सच्चर और मिश्र कमेटी का हवाला देते हुए कहा कि, हिन्दुस्तान मैं मुसलमानो की हालत दलित और आदिवासीयो से भी ज़यादा बदतर है|  मुसलमान आर्थिक, सामाजिक, और शैक्षिक रूप से अति पिछड़ा हुआ है|  नौकरशाही में  मुसलमानो की भागीदारी बहुत कम है |  मुसलमान मलिन बस्तियो में रहने और निचले स्तर के काम करने पर मज़बूर है|

उन्होने मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को याद दिलाया कि प्रदेश के सन 2012 के विधान सभा चुनाव से पहले आपकी पार्टी ने सत्ता में आने पर मुसलमानो को 18 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा किया था| मुसलमानो ने हमेशा की तरह समाजवादी पार्टी को पूरा समर्थन देते हुए प्रदेश मैं पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने मैं बहुत ही अहम भूमिका निभाई |  तभी से मुसलमानो को प्रदेश मैं 18 प्रतिशत हिस्सेदारी मिलने की उम्मीद थी |  इस विधान सभा के आख़िरी सत्र मैं आपकी केबिनेट ने प्रदेश की 17 अति पिछड़ी जातियो को अनुसूचित जाति का दर्ज़ा देने और अनुसूचित जाति के तहत लाभ देने का फ़ैसला किया है| उस तरह ही मुसलमानो को भी उनके पिछड़ेपन और आप के वादे के हिसाब से प्रदेश मैं आरक्षण मिलना चाहिए था| उन्होने माँग की के उत्तर प्रदेश सरकार को इस विधान सभा के आख़िरी सत्र मैं मुस्लिम आरक्षण का रास्ता सॉफ कर देना चाहिए|

TOPPOPULARRECENT