Saturday , September 23 2017
Home / Featured News / मुझे बहुमत हासिल होगी, असेम्बली में साबित करने तैयार: मुख्यमंत्री उत्तराखंड

मुझे बहुमत हासिल होगी, असेम्बली में साबित करने तैयार: मुख्यमंत्री उत्तराखंड

बीजेपी  पर तथ्यों तोड़ मरोड़ कर पेश करने का आरोप, सरकार अल्पमत में आ गई, विपक्षी दल का जवाबी दावा

देहरादून: बीजेपी पर तथ्यों(हक़ायक़) को तोड़-मरोड़ कर पेश करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री उत्तराखंड हरीश रावत ने आज दावा किया कि उत्तराखंड असेम्बली में उन्हें कतई बहुमत है और वह सदन में इसे साबित करने तैयार हैं। हरीश रावत ने स्पीकर असेम्बली गोविंद सिंह कनजवाल से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जो लोग यह दावा कर रहे हैं कि उन्हें 35 विधायकों का समर्थन प्राप्त है, दरअसल वह तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रहे हैं।

उन्हें यक़ीन‌ है कि उन्हें अभी भी असेम्बली में बहुमत हासिल है और वह सदन में इसे साबित कर सकते हैं। बीजेपी  के इस दावे पर कि उसे कांग्रेस के 9 बागी सदस्यों सहित 35 विधायक का समर्थन हासिल है, रावत ने कहा कि उनके जुमला कम से कम 5 विधायक अब भी उनसे संपर्क में हैं।

मुख्यमंत्री ने बताया कि विद्रोही सदस्यों का कहना है कि अब तक कांग्रेस विधानमंडल दल के सदस्य हैं और उन्होंने अलग विकल्प नहीं की। अध्यक्ष के साथ अपनी बैठक के विवरण बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पार्टी के कुछ विधायकों के अभद्र व्यवहार पर बतौर नेता सदन माफी के लिए स्पीकर से मिलने गए थे।

कांग्रेस के कुछ विधायकों ने सदन में विरोध करते हुए बीजेपी  विधायकों के साथ धरना आयोजित किया था। विपक्ष के साथ धरना करते हुए कांग्रेस विधायकों ने पार्टी व्हिप का उल्लंघन किया है, उन्होंने कहा कि विधायकों संवैधानिक प्रावधानों के उल्लंघन के दोषी हुए हैं और उनके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है।

उन्होंने कहा कि उन्हें पार्टी के बागी विधायकों सहित हारक सिंह रावत और विजय बहुगुणा के रवैये से तकलीफ हुई है। उन्होंने कहा कि जहां तक ​​हारक सिंह का संबंध है, इस पर ज्यादा कुछ न कहें तो ही बेहतर है। वह उत्तराखंड की राजनीति का चमकता सितारा हैं। अगर अधिक एक या दो रेसलरस राज्य में पैदा हो जाएं तो हम अपने सपनों के उत्तराखंड कभी सच्चाई नहीं बना सकते।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें विजय बहुगुणा के रवैये पर भी तकलीफ हुई है क्योंकि एक ऐसे परिवार से संबंध रखते हैं जिसने हमेशा सांप्रदायिक शक्तियों के खिलाफ संघर्ष किया है। वे हैम वाहनवती नंदन बहुगुणा के पुत्र हैं जिन्होंने हमेशा धर्मनिरपेक्ष मूल्यों के लिए संघर्ष किया है और सांप्रदायिक ताकतों का मुकाबला किया है।

इस दौरान बीजेपी  ने बागी कांग्रेस विधायकों का समर्थन प्राप्त होने का दावा किया और कहा कि इसे राज्य में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए क्योंकि कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई है। बीजेपी  के प्रदेश अध्यक्ष श्याम जाजू ने कहा कि हरीश रावत सरकार बहुमत खो गई है, अब बीजेपी  को उत्तराखंड असेम्बली में बहुमत हासिल है, उसे सरकार बनाने का मौका दिया जाना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT