Tuesday , October 24 2017
Home / Hyderabad News / मुझ से सयासी इंतिक़ाम(बदला) लिया जा रहा है :जगन

मुझ से सयासी इंतिक़ाम(बदला) लिया जा रहा है :जगन

* सी बी आई कांग्रेस ब्यूरो आफ़ इन्वेस्टी गैशन में तब्दील(बदल गया) हैदराबाद (सियासत न्यूज़ ) सदर वाई एस आर कांग्रेस पार्टी मिस्टर जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि सी बी आई कांग्रेस ब्यूरो आफ़ इन्वेस्टीगेशन में तब्दील हो गई(बदल गइ है) ।

* सी बी आई कांग्रेस ब्यूरो आफ़ इन्वेस्टी गैशन में तब्दील(बदल गया)
हैदराबाद (सियासत न्यूज़ ) सदर वाई एस आर कांग्रेस पार्टी मिस्टर जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि सी बी आई कांग्रेस ब्यूरो आफ़ इन्वेस्टीगेशन में तब्दील हो गई(बदल गइ है) ।

कांग्रेस और तेल्गुदेशम पार्टी के एक दूसरे से मैच फिक्सिंग करते हुए साक्षी अख़बार और टेलीविज़न चैनल को बंद कराने की साज़िश कर रहे हैं । मीडीया का भी एक मख्सूस(बडा) हिस्सा सिंडीकेट में तब्दील हो कर(बदल कर) गुमराह कुन प्रोपेगंडा(रास्ता भट्काने वाली साजीशें) कर रहा है ।

ज़िला अनंत पुर के असेंबली हल्क़ा राय दुर्गम में वाई एस आर कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार की इंतेख़ाबी मुहिम(चूनाव मुहिम) में हिस्सा लेते हुए इन ख़्यालात का इज़हार(को जाहिर) किया । अवाम ने भारी तादाद में पहोँचकर इन का ख़ैर मक़द्दम किया(शान्दार इस्तीक्बाब किया) । रोड शो से ख़िताब(संबोधन) करते हुए जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि इन से सयासी इंतिक़ाम(बदला) लेने के लिए साक्षी मीडीया और चैनल के बशुमुल(जिन में) उन के कंपनीयों के बैंक खातों को मुंजमिद(बंद) कर दीया ग‌या है ।

ताज्जुब इस बात पर है कि सरमाया कारी(कारोबार के लीए पुंजी लगाने) की तहक़ीक़ात(तफतीश) करते हुए करंट अकाउंट्स को मुंजमिद(बंद) कर दिया गया है । वो गुज़शता 9 माह(पीछ्ले 9 महीनों) से तहक़ीक़ात में सी बी आई से मुस्लसल तआवुन(मदद) कर रहे हैं इस के बावजूद(फीर भि) उन्हें मुख़्तलिफ़ तरीक़ों से परेशान किया जा रहा है ।

हक़ायक़ को अवाम तक पहूंचने से रोकने और उन के मीडीया में काम करने वाले स्टाफ़ को बेरोज़गार करने की कोशिश की जा रही है इस साज़िश में इनाडू , आंधरा ज्योति और TV9 भी बराबर के शरीक हैं हुकूमत और असली अपोज़ीशन से साज़ बाज़ करने वाले मुतज़क्किरा(उपर ब्यान किये हुए) मीडीया भी नहीं चाहते कि इन के सिवा दूसरा कोई मीडीया रहे वोजो लिखे वही सही होने और वो जो बताए वही हक़ीक़त होने का तास्सुर(असर) देने के लिए साक्षी के ख़िलाफ़ कार्रवाई की गई है ।

सयासी मैदान में मेरा मुक़ाबला करने में नाकाम होने वाली कांग्रेस और तेल्गुदेशम मीडीया की आज़ादी को सल्ब करने(छीन्ने) की कोशिश कर रही हैं । डाक्टर राज शेखर रेड्डी का क़सूर क्या है । फ़लाही स्कीमात से ग़रीब अवाम को फ़ायदा पहूँचाना क्या जुर्म है रियासत में सनतों(कारीगरीयों) के जाल को फैलाना क्या ग़लत इक़दाम है तो सी बी आई तेल्गुदेशम के दौर‍ ए‍ हुकूमत(हुकुमत के जमाने) में चंद्रा बाबू नायडू के फ़ैसलों के जो आराज़ीयात(जमीनें) कंपनीयां और कॉरपोरेट इदारों(संस्थाओं) के हवाले किए गए हैं इस की तहक़ीक़ात क्यों नहीं कर रही है इस में सी बी आई की क्या मज्बूरी है ।

उन्हों ने कहा कि दिल्ली के इशारे पर सी बी आई उज्लत पसंदी(जल्द बाजि) का मुज़ाहरा कर(दीखा) रही है वो बेक़सूर हैं उन्हें कोई डर नहीं है अदालत से इंसाफ़ मिल्ने की मुकम्मल तवक़्क़ो(उम्मीद) है। कांग्रेस और तेल्गुदेशम पार्टी दोनों मुत्तहिद(एक) होकर भी अवाम के दिलों से अज़ीम क़ाइद डाक्टर राज शेख‌र की प्यार-ओ-मुहब्बत को हरगिज़ दूर नहीं किया जा सकता।

अज़ीम क़ाइद फ़िज़ाई(हवाइ) हादिसे में हलाक होगए हैं मगर अवाम के दिलों में आज भी ज़िंदा है रियासत के वो जिन मुक़ामात का भी दौरा किया है अवाम ने धूप बारिश सर्दी की परवाह किए बगैर‌ उन का शानदार इस्तिक़बाल(स्वागत) किया अब तक जिन इंतेख़ाबात(चूनावों) में वाई एस आर कांग्रेस पार्टी ने हिस्सा लिया है अवाम ने इस के उम्मीदवारों को भारी अक्सरीयत(बडी तादाद) से कामयाब बनाते हुए कांग्रेस और तेल्गुदेशम को सबक़ सिखाया है आइन्दा माह(अगले महिने) जून में मुनाक़िद होने वाले एक लोक सभा और 18 असेंबली हल्क़ों के ज़िम्नी इंतेख़ाबात(उप चुनाव) में अवाम वाई एस आर कांग्रेस पार्टी उम्मीदवारों को भारी अक्सरीयत (ज्यादा वोटों)से कामयाब बनाएंगे कांग्रेस और तेल्गुदेशम की कोई भी साज़िश अवाम कि अदालत में कामयाब नहीं होगी।

TOPPOPULARRECENT