Monday , October 23 2017
Home / Delhi News / मुतवफ़्फ़ी अरकान को ख़िराज-ए-अक़ीदत

मुतवफ़्फ़ी अरकान को ख़िराज-ए-अक़ीदत

पार्लीमेंट का सरमाई इजलास आज इंतिहाई संजीदा अंदाज़ में शुरू हुआ जबकि पार्लीमेंट के दोनों ऐवानों में मौजूदा मुतवफ़्फ़ी अरकान के इंतिक़ाल पर ताज़ियत पेश की गई।

पार्लीमेंट का सरमाई इजलास आज इंतिहाई संजीदा अंदाज़ में शुरू हुआ जबकि पार्लीमेंट के दोनों ऐवानों में मौजूदा मुतवफ़्फ़ी अरकान के इंतिक़ाल पर ताज़ियत पेश की गई।

राज्य सभा के रुक्न मोहन सिंह और लोक सभा के रुक्न मुरारी लाल का इंतिक़ाल होगया है। उन्हें ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश करने के बाद ऐवान का इजलास आज दिन भर के लिए रोक‌ दिया गया। इज़हार ताज़ियत में स्पीकर लोक सभा मीरा कुमार ने ऐवान की नुमाइंदगी करते हुए कहा कि बी जे पी के रुक्न पार्लीमेंट बराए सरघोदा, मुरारी लाल सिंह का इंतिक़ाल कल राय पूर में 61 साल की उम्र में हुआ।

उन्होंने कबायलियों की फ़लाह-ओ-बहबूद के लिए अनथक कोशिश की थी। लोक सभा में 7 साबिक़ अरकान गुरबिंदर कौर बरार, आर पी सारंगी और मोहन सिंह के इंतिक़ाल पर भी ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश किया गया। राज्य सभा के मौजूदा रुक्न जिनका ताल्लुक़ समाजवादी पार्टी से था, राम नरेश कुशवाहा, मोहन धारया, नीतिश सेन गुप्ता और एच पी सिंह को भी ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश किया गया।

राज्य सभा में सदर नशीन हामिद अंसारी ने साबिक़ अरकान, मौजूदा रुक्न और नामवर गुलूकार मन्नाडे का सोग मनाने में ऐवान की क़ियादत की। साबिक़ अरकान जे पी गोविल, राम नरेश कुशवाहा, मोहन मानक चंद दारहया और दीनानाथ मिश्रा का गुजिश्ता 3 माह के दौरान इंतिक़ाल होगया।

जुलाई 2010 से मुसलसल रुक्न रहने वाले समाजवादी पार्टी के क़ाइद मोहन सिंह का इंतिक़ाल 22 सितम्बर को हुआ। राज्य सभा अरकान ने बतौर एहतिराम एक मिनट की ख़ामूशी भी मनाई और दहशतगर्दी के वाक़िया में नैरुबी के शॉपिंग माल में इंसानी जानें ज़ाए होने पर भी इज़हार-ए-अफ़सोस किया।

समुंद्री तूफ़ान फाइलीन, हेलन और हेवन में इंसानी जानों के भी रंज-ओ-ग़म ज़ाहिर किया गया। हामिद अंसारी ने 2 बसों के शोला पोश होने और 32 अफ़राद के कर्नाटक और आंध्रा प्रदेश में फ़ौत होने पर इज़हार रंज-ओ‍गम किया। पटना बम धमाकों पर बहस का बी जे पी अरकान ने मांग‌ किया ताहम इजलास रोक‌ दिया गया।

TOPPOPULARRECENT