Wednesday , October 18 2017
Home / Khaas Khabar / मुतास्सिरीन का दर्द जानने चुपके से पहुँचे उत्तराखंड

मुतास्सिरीन का दर्द जानने चुपके से पहुँचे उत्तराखंड

बीजेपी के सुपर स्टार और गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी ने अगर हेलीकॉप्टर से उत्तराखंड के इलाकों का दौरा करके कांग्रेस और यूपीए हुकूमत को कठघरे में खड़ा करते हुए उन पर तेज हमले किए, वहीं कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी खामोशी स

बीजेपी के सुपर स्टार और गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी ने अगर हेलीकॉप्टर से उत्तराखंड के इलाकों का दौरा करके कांग्रेस और यूपीए हुकूमत को कठघरे में खड़ा करते हुए उन पर तेज हमले किए, वहीं कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी खामोशी से सड़क के रास्ते के जरिए उत्तराखंड के मुसीबत ज़दा इलाकों में राहत के कामो का जायजा लेने, रियासती हुकूमत के इंतेज़ामिया के कामकाज की हकीकत जानने और मुतास्सिरीन के तकलीफो को साझा करने पहुंच गए हैं।

राहुल के करीबी ज़राए के मुताबिक राहुल एक तरफ तो अपने मुखालिफो का मुंह बंद करेंगे, दूसरी तरफ बहुगुणा हुकूमत के खिलाफ मिल रही शिकायतों की हकीकत जांच कर मुस्तकबिल में सही वक्त आने पर उत्तराखंड को लेकर बड़ा सियासी फैसला भी कर सकते हैं।

यह इत्तेला देने वाले ज़राए के मुताबिक राहुल दिन में दिल्ली से ऋषिकेश पहुंचे और वहां से सीधे कार में बैठकर पहाड़ों को ओर निकल गए। पहले वह पौड़ी पहुंचे और वहां उन्होंने हालात का जायजा लिया। इसके बाद वे सड़क के रास्ते से गोचर पहुंच गए।

राहत के कामो में सरगर्म कांग्रेस के एक लीडर के मुताबिक राहुल के काम करने का अपना तरीका है जो आम तौर पर दूसरे लीडरों से बिल्कुल अलग है।

नोएडा के भट्टा पारसौल में भी वह इसी तरह पहुंचे थे। इस बार भी वह हवाई सर्वे की जगह हादिसे वाली जगह खुद पहुंचकर लोगों से सीधे बात करना चाहते हैं।

राहुल के करीबी ज़राए के मुताबिक फौज और नीम फौजी दस्तों की तरफ से किए जा रहे राहत के काम की जानकारी तो लोगों को मिल रही है, लेकिन खाने पीने के सामान और रियासती हुकूमत की मशीनरी के कामकाज को लेकर भी मनफी ( Negative) रिपोर्ट आ रही है।

खबरें आ रही हैं कि कई वजूहात खाने पीने के सामान ऊपर पहाड़ों में मुतास्सिरों तक पहुंच नहीं पा रही है। भूख और कपड़ों की कमी से लोगों का बुरा हाल है। ज्यादातर मौतों की वजह भी भूख, जहरीले फल खाने और ठंड न बर्दाश्त कर पाना है।

इन इत्तेलात ने कांग्रेस कियादत को डिस्ट्रैक्टेड( distracted) कर दिया है। इसीलिए कांग्रेस ने अपने वज़ीर ए आला अशोक गहलौत, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, पृथ्वीराज चह्वाण समेत मोतीलाल वोरा, अंबिका सोनी, महेंद्र जोशी कई सीनीयर लीडरों को उत्तराखंड भेजा।

TOPPOPULARRECENT