Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / मुफ़्ती ख़लील अहमद को ख़िताब

मुफ़्ती ख़लील अहमद को ख़िताब

हैदराबाद ।२४। जुलाई : ( रास्त ) : इलम किताबों से मिलता है और दीन देनदारों और अल्लाह वालों से मिलता है । हर चीज़ को अपनी असल हक़ीक़त की तरफ़ लौटना पड़ता है ।

हैदराबाद ।२४। जुलाई : ( रास्त ) : इलम किताबों से मिलता है और दीन देनदारों और अल्लाह वालों से मिलता है । हर चीज़ को अपनी असल हक़ीक़त की तरफ़ लौटना पड़ता है ।

क़ुरआन मजीद और संत नबवीऐ दो बड़े समुंद्र हैं । इन से हज़ारों नदियां और दरिया निकलते हैं जो तशरीह-ओ-तौज़िह की शक्ल में किताब का रूप इख़तियार करते हैं इस लिए वही किताब मुताला के लायक़ है जिस में क़ुरआन-ओ-संत का हक़ीक़ी फ़ैज़ हो ।

इन ख़्यालात का इज़हार मुफ़्ती ख़लील अहमद शेख़ इलजा मआ निज़ामीया ने इस्लामिक बिकफ़ीर के इफ़्तिताह के मौक़ा पर क्या , मेहमान ख़ुसूसी जनाब मुहम्मद रिहान अली ख़ां केइलावा हज़रत ग़ुलाम नबी शाह नक़्शबंदी , मौलाना सिराज अलरहमन नक़्शबंदी , जनाब मुहम्मद जाफ़र सौदागर , जनाब मुहम्मद शाहिद हुसैन , जनाब अहमद मुही उद्दीन क़ैसर , मौलाना सय्यद रिफ़अत अल्लाह ख़तीब नक़्शबंदी , मौलाना मुहम्मद मुही उद्दीन कादरी महमूदी , ज़ीनत शहि नशीन थे । नाज़िम नुमाइश शाह मुहम्मद फ़सीह उद्दीन निज़ामी ने ख़ैर मुक़द्दम किया ।।

TOPPOPULARRECENT