Friday , October 20 2017
Home / Election 2017 / मुलायम का बयान- कांग्रेस-सपा गठबंधन ग़ैर ज़रूरी, में नहीं करूँगा किसी के लिए प्रचार

मुलायम का बयान- कांग्रेस-सपा गठबंधन ग़ैर ज़रूरी, में नहीं करूँगा किसी के लिए प्रचार

एक बार फिर मुलायम और अखिलेश के बीच दीवार खिंचतीं दिख रही है। लखनऊ में पहले संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस और फिर रोडशो में राहुल गांधी और अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस-सपा गंठबंधन की जीत का दावा कर रहे थे, लेकिन कुछ ही घंटे बाद मुलायम सिंह ने गठबंधन को ग़ैरज़रूरी करार दिया।

मुलायम सिंह ने कहा कि वह कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के बीच हुए गठबंधन के ख़िलाफ़ हैं। कांग्रेस को समाजवादी पार्टी ने 105 सीटें दी हैं। मुलायम ने कहा कि इन 105 सीटों पर उनके कार्यकर्ता और नेता चुनाव लड़ते।

नेता जी ने कहा कि कांग्रेस ने देश पर इतने दिनों तक राज किया इसीलिए भारत पिछड़ गया। अखिलेश के पिता मुलायम सिंह ने कहा कि वह इस गठबंधन के पक्ष में चुनाव प्रचार नहीं करेंगे। मुलायम सिंह ने कहा कि समाजवादी पार्टी यूपी चुनाव अकेले जीतने में सक्षम थी।

उन्होंने अपनी ही पार्टी से सवाल पूछा, ”हमारे जो नेता हैं, जिनके टिकट कटे हैं, वो अब क्या करेंगे? उन्होंने पांच साल के लिए मौका गंवा दिया। मैं कांग्रेस के साथ समझौते के ख़िलाफ़ हूं। मैं समझौते के पक्ष में प्रचार नहीं करूंगा। समाजवादी पार्टी में कई ऐसे मुद्दे हैं जिनके ख़िलाफ़ मुझे संघर्ष करना पड़ा।”
मुलायम ने कहा, ”इस समझौते के तहत जो सीटें कांग्रेस को दे दी गईं, वो सीटें हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं की थी। अब हमारे कार्यकर्ता और नेता क्या करेंगे?

TOPPOPULARRECENT