Monday , September 25 2017
Home / Khaas Khabar / मुलायम की हिंदूवादी नीति से सपा से दूर हुये मुस्लिम

मुलायम की हिंदूवादी नीति से सपा से दूर हुये मुस्लिम

लखनऊ – समाजवादी पार्टी का अबतक मजबूत मुस्लिम वोट बैंक बिखर रहा है उपचुनाव में सपा को तीन में से दो सीट गवानी पड़ी है जिसमे मुस्लिम वोटो की अच्छी खासी तादात थी ,सपा सिर्फ़ बीकापुर जीतने में सफल रही है राजनैतिक पंडित बीकापुर में सपा की जीत ना मानकार इसे आनंदसेन की व्यक्तिगत उप्लब्दी बता रहे है यहाँ पे भी मुस्लिम वोट सपा के बजाय दूसरी पार्टीज में भी गया है यहाँ तक की नयी नवेली मीम ने भी 11000 से अधिक मत पाकर सपा को अपनी हैसियत का अहसास करा दिया है .

देवबंद में सपा को तगड़ा झटका लगा यहाँ पे कांग्रेस ने जीत पाकर राजनैतिक पंडितो को चौका दिया, मुस्लिमो ने देओबंद में सपा को समर्थन नही किया यही सपा प्रत्‍याशी मीना राणा की हार की वजह बना। मीना पूर्व मंत्री राजेंद्र सिंह राणा की विधवा हैं। मुजफ्फरनगर की बात करें तो कांग्रेस के सलमान सईद ने 10561 वोट हासिल किए। सईद ने सपा के गौरव स्‍वरुप के वोट शेयर में सेंध लगाई। हालांकि, दोनों ही बीजेपी के प्रत्‍याशी कपिल देव के हाथों पराजित हुए।

हार की वजह मुलायम का हिंदूवादी समर्थन बयानबाजी और दंगो का इल्जाम
सपा की हार मुज़फ्फरनगर दंगा रोकने में नाकामी और मुलायम सिंह का बराबर भाजपा से नजदीकी के साथ हिंदूवादी बयानबाजी ,सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह ने कुछ दिन पहले अयोध्या में कारसेवको पे गोली चलाने में माफ़ी मांगी इससे पहले भी सपा मुखिया अक्सर ऐसे बयां दिए है जिससे मुस्लिम सपा से दूर होते गये ,सपा ने केंद्र की राजनीति में भाजपा का मुखर विरोध करने के बजाय कई मौको पे उल्टा साथ दे दिया जिससे मुस्लिमो में मुलायम के लिए नाराज़गी शुरू हुई ,मुस्लिमो से नाराजगिया अब परिणामो में भी दिखने लगे है .

सपा के लिए गनीमत थी बसपा चुनाव मैदान से दूर थी आम चुनाव में बसपा के होने पे सपा का 2017 में सफाया हो जाने की आशंका भी अब प्रबल है

साभार – HEADLINE24.IN

TOPPOPULARRECENT