Saturday , October 21 2017
Home / District News / मुलाज़मत की हद उम्र 60 साल करने का मुतालिबा

मुलाज़मत की हद उम्र 60 साल करने का मुतालिबा

रियासत के टीचर्स की नुमाइंदा तंज़ीम पी आरटीयू के क़ाइदीन कमला कर राव, शंकर , ख़्वाजा मुईनुद्दीन , सय्यद अहमद बुख़ारी, आरिफुद्दीन, इसरार अहमद ने बताया हैके रियासती सदर वेंकट रेड्डी , जनरल सेक्रेटरी सरोतम रेड्डी ने एक तफ़सीली याददाश्त रि

रियासत के टीचर्स की नुमाइंदा तंज़ीम पी आरटीयू के क़ाइदीन कमला कर राव, शंकर , ख़्वाजा मुईनुद्दीन , सय्यद अहमद बुख़ारी, आरिफुद्दीन, इसरार अहमद ने बताया हैके रियासती सदर वेंकट रेड्डी , जनरल सेक्रेटरी सरोतम रेड्डी ने एक तफ़सीली याददाश्त रियासती हुकूमत को पेश की है। जिस में बताया गया हैके आलमी सेहत के सर्वे के मुताबिक़ एक आम आदमी मौजूदा दौर में 60 साल की उम्र तक तमाम काम बेहतर अंदाज़ में अंजाम दे सकता है इस लिए मर्कज़ी हुकूमत भी अपने मुलाज़िमीन की मुलाज़मत के लिए हद उम्र को 60 साल बरक़रार रखा है इन क़ाइदीन ने रियासती चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ जो कि मुलाज़िमीन के हक़ीक़ी ख़ैर ख़ाह और बही ख़ाह हैं पुरज़ोर अपील की के रियासत तेलंगाना के मुलाज़िमीन सरकार और टीचर्स की मुलाज़िमत के लिए मुक़र्रर करदा हद उम्र को बढ़ा कर 60 साल कर दिया जाये।

रियासत आंध्र प्रदेश की हुकूमत ने भी अपने मुलाज़िमीन की हद उम्र 58 से बढ़ाकर 60 साल करचुकी है। यहां इस अमर की वज़ाहत ज़रूरी हैके किसी भी उम्मीदवार को 35 ता 40 साल की उम्र में मुलाज़मत हासिल होने के बाद वो बहुत कम अर्सा तक मुलाज़िमत करता है जिस से माली फ़वाइद जो हुकूमत की तरफ से हासिल होने वाले हैं ख़ातिरख़वाह हासिल नहीं होसकते।

TOPPOPULARRECENT