Saturday , October 21 2017
Home / India / मुल्क की सबसे लंबी रेल टनल से आज गुजरेगी ट्रेन

मुल्क की सबसे लंबी रेल टनल से आज गुजरेगी ट्रेन

जम्मू, 26 जून:इंडियन रेल की कामयाबियो में आज उस वक्त नया चैप्टर लिखा जाएगा, जब मुल्क की सबसे लंबी रेल टनल से पहली बार मुसाफिरों से भरी ट्रेन का चलना शुरू होगा।

जम्मू, 26 जून:इंडियन रेल की कामयाबियो में आज उस वक्त नया चैप्टर लिखा जाएगा, जब मुल्क की सबसे लंबी रेल टनल से पहली बार मुसाफिरों से भरी ट्रेन का चलना शुरू होगा।

रियासत की पीर पंजाल की पहाड़ियों के बीच बनिहाल से काजीगुंड तक 11.21 किलोमीटर की एशिया की दूसरी सबसे लंबी टनल में सफर करने का लुत्फ ही अलग होगा। साथ ही पहाड़ियों के खूबसूरत नजारे देखने का भी लोगों को मौका मिलेगा।

पहाड़ियों के बीच बने खूबसूरत बनिहाल रेलवे स्टेशन पर वज़ीर ए आज़म मनमोहन सिंह मंगल को रेल ट्रैक का इफ्तेताह कर नई इबारत लिखेंगे।

कभी रियासत के महाराजा प्रताप सिंह और बाद में इंदिरा गांधी ने कश्मीर को रेलवे लाइन से जोड़ने का जो ख्वाब देखा था, वह अब पूरा हो रहा है।

न्यू ऑस्ट्रिया टनलिंग मैथड से तैयार टनल पर कुल 1300 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

खास बात यह है कि टनल में रंग बिरंगी लाइटें लगाई गई हैं और इसमें एक मुतबादिल रास्ता बनाया गया है, ताकि इमरजेंसी की हालात में मुसाफिरों को निकालने के लिए उसका इस्तेमाल किया जा सके।

बनिहाल से काजीगुंड सेक्शन आठ साल साल में बनकर तैयार हुआ है। इसे तैयार करने में छह सौ मजदूर दिन रात काम कर रहे थे।

बनिहाल-काजीगुंड ट्रैक पर 28 दिसंबर 2012 और 18 जून 2013 को ट्रेनों के चलाने की कामयाबी मिल चुकी है।

मुसाफिरों को पहले सड़क के रास्ते बनिहाल से श्रीनगर जाने तक डेढ़ सौ रुपये खर्च करने पड़ते थे, वहां अब तक्रीबन 50 रुपये लगेंगे।

बनिहाल से काजीगुंड तक 35 किमी का सड़क सफर है। जबकि रेल का 17 किमी सफर है। डेढ़ घंटे का सफर आधे में पूरा होगा। इससे लोगों का वक्त भी बचेगा।

मुल्क के किसी भी कोने से वादी का टिकट लेकर मुसाफिर ट्रेन से श्रीनगर व वादी के दिगर स्टेशनों तक पहुंच सकते हैं।

इस टनल के अंदर सीसीटीवी कैमरे, आक्सीजन प्लांट , आग बुझाने के प्लांट, रेडियो सिस्टम, धुएं का पता लगाने के प्लांट एसकैप रूट और इमरजेंसी टेलीफोन की सहूलियत दी गयी है।

TOPPOPULARRECENT