Wednesday , August 23 2017
Home / Islami Duniya / मुल्क की सलामती को लाहक़ ख़तरे का मुंहतोड़ जवाब देंगे

मुल्क की सलामती को लाहक़ ख़तरे का मुंहतोड़ जवाब देंगे

पाकिस्तान और भारत के दरमयान सन 1965 में लड़ी गई जंग के पच्चास साल मुकम्मल होने पर पाकिस्तान में गोल्डन जुबली तक़रीबात मनाई जा रही हैं। इतवार को दिन का आग़ाज़ वफ़ाक़ी दारुल हुकूमत में 31 और सुबाई दारुल हुकूमत में 21 तोपों की सलामी से हुआ।

सन 1965 की जंग लड़ने वाली पाकिस्तान फ़ौज को ख़राजे तहसीन पेश करने के लिए सुबह 9:29 मिनट पर मुल्क भर में एक मिनट की ख़ामूशी अख़्तियार की गई। इस का मक़सद ये पैग़ाम देना था कि मुल्क के दिफ़ा के लिए तमाम क़ौम मुत्तहिद है।

पाकिस्तान की हुकूमत का कहना है कि पाकिस्तान को मुल्क की मशरिक़ी सरहदों से भारत एक बार फिर धमकीयां दे रहा है और मुल्क में दहश्तगर्दों के ख़िलाफ़ जंग जारी है। इस तनाज़ुर में यौमे दिफ़ा पाकिस्तान इंतिहाई अहमीयत का हामिल है।

TOPPOPULARRECENT