Wednesday , August 23 2017
Home / Delhi News / मुल्क में फ़िर्क़ापरस्तों के लिए दरवाज़े बंद

मुल्क में फ़िर्क़ापरस्तों के लिए दरवाज़े बंद

श्रीनगर: पी डी पी के रुकन पार्लियामेंट तारिक़ हमीद कराने जो रियासत में पी डी पी । बी जे पी इत्तेहाद के मुख़ालिफ़ हैं आज कहा कि बिहार असेम्बली इंतेख़ाबात के नताइज उनकी पार्टी पी डी पी की आंखें खोलने के लिए काफ़ी हैं क्योंकि मुल्क में फ़िर्ख़‌परस्त ताक़तों के लिए दरवाज़े बंद करदिए गए हैं।

लोक सभा में श्रीनगर हलक़ा की नुमाइंदगी करने वाले मिस्टर कराने कहा कि पी डी पी के लिए अब जागने का वक़्त है। इस के पास अब भी वक़्त है कि वो जाग जाये क्योंकि फ़िर्ख़‌परस्त ताक़तों के लिए दरवाज़े बंद करदिए गए हैं। सेक्युलर ताक़तों के लिए मौक़ा खुल गए हैं। पार्टी को होशियार होजाना चाहिए।

कराने अपने मुख़्तलिफ़ ट्वीट्स में ये राय ज़ाहिर की है। उन्होंने कहा कि बिहार असेम्बली इंतेख़ाबात के नताइज उन मसाइल की तौसीक़ करते हैं जो कश्मीर में उठाए जा रहे हैं। जो मसाइल उन्होंने कश्मीर में उठाए हैं उनकी बिहार के फैसले से तौसीक़ हो गई है।

उन्होंने कहा कि अगर यही पयाम जम्मु कश्मीर से दिया जाता और आर एस उस की उमा पर चलने वाले इत्तेहाद से अलाहदगी इख़तियार करली जाती तो ये पयाम और भी ताक़तवर होता। उन्होंने रियासत के लिए वज़ीरे आज़म के मालना पैकेज को भी मुस्तरद कर दिया और कहा कि पैकेजस से इंतेख़ाबात नहीं जीते जा सकते।

TOPPOPULARRECENT