Thursday , August 24 2017
Home / Crime / ‘मुसलमानों को भारत से निकालने का समय आ गया है’, साध्वी प्राची के बयान से सोशल मिडिया पर बहस

‘मुसलमानों को भारत से निकालने का समय आ गया है’, साध्वी प्राची के बयान से सोशल मिडिया पर बहस

नई दिल्ली:भारत में अपने विवादास्पद बयानों के लिए प्रसिद्ध हिंदू नेता साध्वी प्राची ने कहा कि मुसलमानों को भारत से निकालने का समय आ गया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार उन्होंने कहा, कि ‘देश को कांग्रेस से मुक्त करने का मिशन पूरा हो चुका है और अब मुसलमानों से भी पाक करने का समय आ गया है।’ हालांकि विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने साध्वी के बयान पर कहा है कि संगठन नहीं चाहती कि मुसलमानों को भारत से निकाल दिया जाए।

बीबीसी के अनुसार संगठन के महासचिव सुरेन्द्र जैन ने कहा: ‘वह चुनाव लड़ चुकी हैं। हमारे संविधान में लिखा है कि हमारा कोई भी अधिकारी चुनाव नहीं लड़ सकता। ‘ विहिप नेता ने कहा कि हम नहीं चाहते कि मुसलमानों को भारत से निकाल जाए और यह संभव नहीं है।

‘हमारा यह रुख है कि भारत हमेशा से सभी के लिए है। मुसलमान पहले यहाँ व्यापारी के रूप में आए थे। हमने उन्हें पहली मस्जिद बना दी थी। हमारा देश के मुसलमानों से झगड़ा नहीं है। हमारा झगड़ा उन लोगों की मानसिकता से है जो कोई बात हो तो पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने, या पाकिस्तान का झंडा लहराने लग जाते हैं हमारा झगड़ा इस मानसिकता है, लोगों से नहीं। ‘ उधर भाजपा ने भी साध्वी के बयान से परहेज किया है।

रिपोर्टों के अनुसार भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, ‘पार्टी साध्वी प्राची के विवादास्पद बयान का समर्थन नहीं करती, पार्टी का एकमात्र एजेंडा विकास है।’ पीटीआई के अनुसार साध्वी प्राची ने यह बयान उत्तराखंड में दिया जो राजधानी दिल्ली से चार घंटे की दूरी पर है। साध्वी प्राची के इस विवादित बयान पर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई है। खान यूसुफ ने ट्विटर पर लिखा, “केंद्र और राज्य सरकारें साध्वी प्राची के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही हैं? ‘

सोपनल लिखते हैं: ‘वह अपने बोलने की स्वतंत्रता के अधिकार का इस्तेमाल कर रही हैं। यदि आप पसंद नहीं है, तो मत सुनो। ‘

पत्रकार रूपा सुब्रमण्यम लिखती हैं, “मौका आ गया है कि भारत को साध्वी प्राची / विहिप से मुक्त किया जाए। मोदी ने उन्हें गुजरात में बे महल बना दिया था। अगला कदम। राष्ट्रव्यापी है। ‘

TOPPOPULARRECENT