Wednesday , October 18 2017
Home / India / मुसलमानो को गांव में घुसने नहीं देंगे

मुसलमानो को गांव में घुसने नहीं देंगे

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में फुगाना गांव में मुनाकिद 35 बिरादरियों की पंचायत में मुताफिका तौर पर फैसला ‍लिया गया कि फुगाना और लोई के मुसलमानो को पुलिस की मौजूदगी के बिना गांव में नहीं घुसने दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में फुगाना गांव में मुनाकिद 35 बिरादरियों की पंचायत में मुताफिका तौर पर फैसला ‍लिया गया कि फुगाना और लोई के मुसलमानो को पुलिस की मौजूदगी के बिना गांव में नहीं घुसने दिया जाएगा।

यह भी फैसला लिया गया कि दंगे के फर्जी मुल्ज़िम को गिरफ्तार नहीं होने देंगे। गांव फुगाना में ग्राम प्रधान थाम सिंह के रिहायशगाह पर जुमे के रोज़ गांव की 35 बिरादरी की पंचायत मुनाकिद हुई । पंचायत में गांव के मुस्लिम तब्के के लोगों की तरफ से कत्ल , आगजनी व रेप के मामलों में फर्जी नामजदगी कराने का मुद्दा छाया रहा।

घंटों चली पंचायत में ग्राम प्रधान थाम सिंह ने कहा कि उनके गांव के मुस्लिम तब्के के लोग फर्जी नामजदगी कराकर हुकूमत से बहाली मंसूबे (Rehabilitation Plan) में पांच-पांच लाख रुपये हड़प रहे हैं।

जो लोग बहाली मंसूबे ले चुके हैं वे गांव में आकर गड़बड़ी फैला रहे हैं। पंचायत में सभी लोगों की राय से फैसला लिया गया कि फुगाना व लोई के मुसलमानों को गांव में नहीं घुसने दिया जाएगा।

यदि कोई शख्स गांव में आता है तो वह पुलिस को साथ लेकर ही गांव में आएगा। अपना सामान भी पुलिस की गैर मौजूदगी में नहीं ले जा सकेगा। गाँव वालों ने दंगे की जांच टीम पर नाराजगी जताते हुए कहा कि यह जांच किसी दूसरी एजेंसी से करवाई जाए।

जांच कमेटी सही जांच नहीं कर रही है, जो नामजदगी गाँव वालो की तरफ से करवाई गई है यह उन्हें ही सही मान रही है। पंचायत में यह भी फैसला लिया गया कि फर्जी नामजदगी में किसी भी गाँव वालों की गिरफ्तार नहीं होने दी जाएगी।

गिरफ्तार करने आई पुलिस का मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। पंचायत में साबिक प्रधान हरपाल सिंह, सुनील, जयपाल सिंह, चौधरी हरवीर सिंह, वेदपाल सिंह सहित सभी बिरादरियों के सैकड़ों लोग मौजूद रहे। पंचायत की सदारत ग्राम प्रधान थाम सिंह ने की।

TOPPOPULARRECENT