Wednesday , October 18 2017
Home / Khaas Khabar / मुसलमान गुजरात फ़साद को भुला दें राजनाथ सिंह

मुसलमान गुजरात फ़साद को भुला दें राजनाथ सिंह

जयपुर, 23 जून: बीजेपी के कौमी सदर राजनाथ सिंह ने मुस्लिमो से अपील की है कि वो साल 2002 में गोधरा कांड के बाद गुजरात में हुए दंगे को भूला दें।

जयपुर, 23 जून: बीजेपी के कौमी सदर राजनाथ सिंह ने मुस्लिमो से अपील की है कि वो साल 2002 में गोधरा कांड के बाद गुजरात में हुए दंगे को भूला दें।

एक मुकामी टीवी चैनल की ओर से ‘अक्लीयतों के सामने चैलेंज’ के मौजू पर मुनाकिद सेमिनार में सिंह ने कहा कि साल 2002 से पहले मुल्क में 13 हजार फिर्कावाराना दंगे हुए थे।

सिंह ने कहा कि कभी-कभार इस तरह की वाकियात होते हैं, लेकिन क्या हम इन्हें भूला नहीं सकते। उन्होंने कहा कि राजस्थान ने भैरोंसिंह शेखावत और वसुंधरा राजे की हुकूमत देखे है। इन दोनों के हुकूमत में अक्लीयतों के साथ किसी तरह का कोई इम्तियाज़ (भेदभाव) नहीं हुआ।

सिंह ने कहा कि मैं मुसलमानों में एतेमाद पैदा करना चाहता हूं। हम प्यार से मुसलमानों का दिल जीतना चाहते हैं, डर दिखा कर नहीं।

उन्होंने कहा कि बीजेपी कांग्रेस की ‘फूट डालो और राज करो’ की पालिसी पर नहीं, बल्कि इंसानियत की सियासत करना चाहती है। अंग्रेजों ने ‘फूट डालो और राज करो’ की पालिसी अपनाई थी, जो आज भी खत्म नहीं हुई है।

हम इसके खिलाफ इंसानियत की सियासत करना चाहते हैं। उन्होंने सवाल किया कि आजादी के 66 साल बाद भी हिंदू-मुसलमान में जुगलबंदी क्यों नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि मुसलमानों को तालीम और तरक्की का रास्ता दिखाया जाना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

बीजेपी इक्तेदार वारी रियासतो में मुसलमानों के साथ इम्तियाज न होने का दावा करते हुए सिंह ने कहा कि किसी को कोई शिकायत हो तो उन्हें खत लिखे।

वह स शिकायत को दूर करने की कोशिश करेंगे। इस मौके पर बीजेपी के तर्जुमान शाहनवाज हुसैन ने कहा कि आजादी के बाद मुसलमानों का ख्याल रखा जाता तो सच्चर कमेटी की रिपोर्ट में हम इतने कमजोर नहीं दिखते।

राज नाथ सिंह ने एक दूसरे की इज़्ज़त पर ज़ोर दिया और कहा कि मुल्क और समाज को समझदार बनाने के लिए ऐसा ज़रूरी है ।उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी इक्तेदार हासिल करने के लिए सियासत नहीं कर रही है । सिंह ने कहा कि हम चाहते हैं कि आप में एतेमाद पैदा हो । ताहम जब राज नाथ सिंह यहां से वापस हो रहे थे राजस्थान इकलेती कमीशन के सदर नशीन माहिर आज़ाद ने दिलेराना अंदाज़ में उन्हें चैलेंज किया और कहा कि वो वज़ाहत करें कि गुजरात में मुसलमानों के ख़िलाफ़ क्यों इम्तियाज़ बरता जा रहा है ।

राज नाथ सिंह ने इसका कोई जवाब नहीं दिया और अफरा तफरी में चले गए । माहिर आज़ाद ने कहा कि आप कहते हैं कि मुसलमान किसी तरह के इम्तियाज़ के ख़िलाफ़ आप से शिकायत करें लेकिन आप गुजरात के ताल्लुक़ से कुछ क्यों नहीं कहते ?

इकलेती बिरादरी के तलबा को स्कालरशिप से महरूम किया जा रहा है । मर्कज़ से अक्लीयतों की फ़लाह-ओ-बहबूद के लिए फ़राहम फ़ंड्स का इस्तेमाल नहीं हो रहा है । आप को इसकी वज़ाहत करनी चाहीए । उस वक़्त तक अफरा तफरी फैल गई थी और राज नाथ सिंह कोई जवाब दिए बगैर चले गए ।

बादअज़ां बी जे पी इकलेती सेल सदर अमीन पठान ने वज़ाहत की कोशिश की लेकिन उन्हें मुज़ाहमत का सामना करना पड़ा और उन से माईक छीन लिया गया । बी जे पी तर्जुमान शाहनवाज़ हुसैन भी राज नाथ सिंह के साथ थे उन्होंने अख़बारी नुमाइंदों से कहा कि माहिर आज़ाद ने जो इल्ज़ामात आइद किए हैं बे बुनियाद हैं ।

TOPPOPULARRECENT