Friday , October 20 2017
Home / India / मुस्लमानों की ताईद दहश्तगर्दी है तो में दहश्तगर्द हूँ: मुलायम सिंह यादव

मुस्लमानों की ताईद दहश्तगर्दी है तो में दहश्तगर्द हूँ: मुलायम सिंह यादव

लखनऊ। 17मार्च (सियासत न्यूज़)। समाजवादी पार्टी के सदर मुलायम सिंह यादव ने आज यहां जमाते उलमा-ए-हिंद के जल्सा-ए-आम में मुस्लमानों को यक़ीन दिलाया कि समाजवादी पार्टी ने अपने इंतेख़ाबी मंशूर में जो वाअदे किए हैं, उनको अखीलेश यादव हुकूम

लखनऊ। 17मार्च (सियासत न्यूज़)। समाजवादी पार्टी के सदर मुलायम सिंह यादव ने आज यहां जमाते उलमा-ए-हिंद के जल्सा-ए-आम में मुस्लमानों को यक़ीन दिलाया कि समाजवादी पार्टी ने अपने इंतेख़ाबी मंशूर में जो वाअदे किए हैं, उनको अखीलेश यादव हुकूमत पूरा करेगी और अब वादों को पूरा करने का अमल शुरू भी होगया है।

मुलायम सिंह यादव ने जमीत उलमा-ए-के मुतालिबात से इत्तिफ़ाक़ करते हुए कहा कि उनकी पार्टी और समाजवादी पार्टी की रियासती हुकूमत इन मुतालिबात को पूरा करने के मर्कज़ पर दबाओ डालेगी। नीज़ अखीलेश यादव के दाइरा-ए-इख़तियार में आने वाले मुतालिबात तस्लीम किए जाएंगे।

मुलायम सिंह यादव ने कहा कि वो अक़लियतों बिलख़सूस मुस्लमानों के साथ की जाने वाली ज़्यादतियों, नाइंसाफ़ीयों के ख़िलाफ़ जद्द-ओ-जहद करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि अगर मुस्लमानों की हिमायत करना दहश्तगर्दी है तो उन्हें ख़ुद अपने दहश्तगर्द कहलाने में कोई तकल्लुफ़ नहीं है।

मुलायम सिंह यादव ने ये बात मर्कज़ी वज़ीर बेनी प्रसाद वर्मा के गोंडा में दीए गए इस बयान में उन्होंने मुलाइम सिंह के ताल्लुक़ात दहश्तगरदों से होने की बात कही थी। मुलाइम सिंह यादव ने कहा कि आज लखनऊ के तारीख़ी रफ़ाह आम क्लब में मुस्लमानों के अज़ीम इजतिमा में उनकी शिरकत और जुमे ता के मुतालिबा की ताईद अगर दहश्तगर्दी है तो वो यक़ीनन दहश्तगर्द हैं।

मुलायम सिंह ने कहा कि बेक़सूर मुबय्यना मुस्लिम दहश्तगरदों की रिहाई के लिए अखीलेश यादव हुकूमत मुसलसल कोशिश कररही है और जल्द ही रिहाई का अमल शुरू करदिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुबय्यना मुस्लिम दहश्तगरदों की दरख़ास्त ज़मानतों की रियासती हुकूमत की जानिब से मुख़ालिफ़त नहीं की जाएगी।

उन्होंने कहा कि अभी तक 11 में से 7 मुबय्यना मुस्लिम दहश्तगरदों की ज़मानत पर रिहाई होचुकी है। उन्होंने कहा कि अखीलेश यादव के दौर-ए-हकूमत में महिकमा पुलिस में भर्ती के दौरान मुस्लमानों को 5 फीसदी इज़ाफ़ी नंबर दीए जाएंगे ताकि वो भर्ती की मेरिट में आसकें। मुलाइम सिंह ने कांग्रेस पार्टी पर इल्ज़ाम लगाया कि वो उर्दू अख़बारात को बंद कराने के दरपे है। अखीलेश यादव की वज़ारत कौंसल का कोई मुस्लमान वज़ीर आज के जलसे में मौजूद नहीं था।

TOPPOPULARRECENT