Sunday , October 22 2017
Home / Khaas Khabar / मुस्लमानों को तहफ़्फुज़ात का वायदा महंगा साबित हुआ

मुस्लमानों को तहफ़्फुज़ात का वायदा महंगा साबित हुआ

नई दिल्ली, ११ जनवरी (पी टी आई) मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़ानून सलमान ख़ुरशीद ने आज एक नए तनाज़ा में फंस गए। उत्तर प्रदेश में असैंबली इंतिख़ाबात के पेशे नज़र उन्हों ने पसमांदा मुस्लमानों के लिए 9 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात का वायदा किया था जिस की बी जे पी ने

नई दिल्ली, ११ जनवरी (पी टी आई) मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़ानून सलमान ख़ुरशीद ने आज एक नए तनाज़ा में फंस गए। उत्तर प्रदेश में असैंबली इंतिख़ाबात के पेशे नज़र उन्हों ने पसमांदा मुस्लमानों के लिए 9 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात का वायदा किया था जिस की बी जे पी ने इलैक्शन कमीशन से शिकायत की।

चुनांचे उन्हें और उन की अहलिया कांग्रेस उम्मीदवार हलक़ा असैंबली फर्रुखाबाद (यू पी) को इलैक्शन कमीशन ने नोटिस वजह नुमाई जारी की है । मुख़तार अब्बास नक़वी रुकन पार्लीमैंट की ज़ेर क़ियादत बी जे पी वफ़द नीचे इलेक्शन कमिशनर एस वाई क़ुरैशी से मुलाक़ात की और सलमान ख़ुरशीद के ख़िलाफ़ कार्रवाई का मुतालिबा किया जिन्हों ने अपनी अहलिया लोईज़ की ताईद में इंतिख़ाबी मुहिम चलाते हुए मुस्लमानों को 9 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात का वायदा किया ।

बी जे पी ने इन दोनों पर इंतिख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ और दस्तूर की ख़िलाफ़वरज़ी का इल्ज़ाम आइद किया। मुख़तार अब्बास नक़वी ने कहा कि मज़हब के नाम पर वोट हासिल करना इंतिख़ाबी क़वानीन की ख़िलाफ़वरज़ी है। ताहम सलमान ख़ुरशीद ने उन के ख़िलाफ़ आइद इल्ज़ामात को मुस्तर्द करते हुए दावा किया कि लोईज़ के लिए इंतिख़ाबी मुहिम के दौरान उन्हों ने सिर्फ कांग्रेस की पार्टी के इंतिख़ाबी मंशूर का हवाला दिया है।

उन्होंने बी जे पी पर जवाबी तन्क़ीद करते हुए कहा कि वो दुहरा मयार इख़तियार कर रही है क्योंकि इस ने राम मंदिर की तामीर के हक़ का दावा किया है। इलेक्शन ओहदेदारों ने बी जे पी की शिकायत और वज़ीर-ए-क़ानून के इंतिख़ाबी वायदा का नोट लेते हुए उन की अहलिया को नोटिस वजह नुमाई जारी की और उन के शौहर के दिए गए ब्यान से मुताल्लिक़ अंदरून तीन यौम वज़ाहत तलब की।

फर्रुखाबाद डिस्ट्रिक्ट इलेक्ट्रॉल ऑफीसर सच्चिदानंद दूबे ने पी टी आई को बताया कि लोईज़ ख़ुरशीद को रिटर्निंग ऑफीसर फर्रुखाबाद असमली हलक़ा अशोक कुमार लाल ने नोटिस वजह नुमाई जारी की है । रात देर गए ज़राए ने बताया कि इलैक्शन कमीशन मुस्लमानों को तहफ़्फुज़ात के बारे में सलमान ख़ुरशीद को भी नोटिस जारी कर रहा है ।

कांग्रेस ने दिफ़ाई मौक़िफ़ इख़तियार करते हुए कहा कि वो इलेक्शन कमीशन के फ़ैसला का एहतिराम करती है। मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़ानून ने फर्रुखाबाद में एतवार को इंतिख़ाबी मुहिम चलाते हुए राय दहिंदों से वायदा किया कि रियासत में कांग्रेस को इक़तिदार हवाला करने पर मुस्लमानों के लिए ज़ेली कोटा बढ़ाकर 9 फ़ीसद कर दिया जाएगा। कांग्रेस तर्जुमान राशिद अलवी ने नोटिस वजह नुमाई पर मीडीया के सवालात की बौछार पर कहा कि इलेक्शन कमीशन एक दस्तूरी इदारा है और पार्टी इस के फ़ैसला का एहतेराम करती है।

उन्होंने कहा कि अगर इलैक्शन कमीशन का ये एहसास है कि सलमान ख़ुरशीद के लिए इस तरह का ऐलान करने का मौज़ूं वक़्त नहीं था तो ये कमीशन के दायरा इख्तेयार में है। हम इलेक्शन कमीशन के अहकामात पर तबसरा नहीं करेंगे । उन्हों ने दीगर जमातों को भी यही मश्वरा दिया।

TOPPOPULARRECENT