Thursday , August 24 2017
Home / Hyderabad News / मुस्लमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के लिए सुधीर कमेटी की रिपोर्ट का इंतेज़ार

मुस्लमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के लिए सुधीर कमेटी की रिपोर्ट का इंतेज़ार

हैदराबाद 08 अक्टूबर: चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्रशेखर राव‌ ने असेंबली में कहा कि मुस्लमानों की पसमांदगी का जायज़ा लेने वाली सुधीर कमेटी की रिपोर्ट वसूल होते ही असेंबली में मुस्लमानों के लिए 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात की क़रारदाद मंज़ूर करके मर्कज़ को रवाना किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि महिकमा अक़लियती बहबूद में 200 जायदादों पर जल्द अज़ जल्द तक़र्रुत किए जाऐंगे, जब कि सारे मुल्क में रियासत तेलंगाना के फ़लाही इक़दामात सर-ए-फ़हरिस्त हैं।

बहबूद के मस्ले पर मबाहिस का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि साबिक़ा हुकूमतों ने मुस्लमानों की तरक़्क़ी को नजरअंदाज़ किया है, वो मुस्लमानों की पसमांदगी से वाक़िफ़ हैं, जिसका जायज़ा लेने के लिए डी सुधीर की क़ियादत में एक कमेटी तशकील दी है। उन्होंने कहा कि वो अक़लियतों की तरक़्क़ी-ओ-बहबूद के लिए 1105 करोड़ का बजट मंज़ूर कर चुके हैं, ताहम अकलियती बहबूद में स्टाफ़ ना होने की वजह से बजट मुकम्मिल ख़र्च नहीं हो रहा है, जिसका जायज़ा लेने के लिए सरबराह एंटी करप्शन ब्यूरो ए के ख़ान की क़ियादत में एक कमेटी तशकीलदी गई है।

कमेटी की रिपोर्ट वसूल होने के बाद वो मुस्लिम मुंतख़ब नुमाइंदों का मीटिंग तलब करके अक़लियतों की तरक़्क़ी के लिए मुशावरत करेंगे और जल्द अज़ जल्द महिकमा अक़लियती बहबूद में 100 ता 200 स्टाफ़ का तक़र्रुर किया जाएगा।

चीफ़ मिनिस्टर के सी आर ने कहा कि अक़लियतों की तरक़्क़ी के लिए टी आर एस हुकूमत बड़े पैमाने पर इक़दामात कर रही है, ताहम इस पर अमल आवरी के तरीका-ए-कार से वो ख़ुश नहीं है। वो एससी तबक़ात के तर्ज़ पर अक़लियती तलबा के लिए रेसीडेंशियल सोसाइटीज़ क़ायम करने पर संजीदगी से ग़ौर कर रहे हैं और आला ओहदेदारों से मुशावरत जारी है।

उन्होंने कहा कि अक़लियतों को स्किल डेवलपमेंट के ज़रीये नफ़ा पहुंचाने और क़ब्रिस्तानों के लिए अराज़ी फ़राहम करने पर ग़ौर किया जा रहा है, अगर सरकारी अराज़ी नहीं है तो खरीदकर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आइन्दा एस एल्बी सी के मीटिंग में अक़लियतों के तमाम तबक़ात को क़र्ज़ाजात की अदायगी के मस्ले पर बैंकर्स से बातचीत की जाएगी, क्युंकि टी आर एस हुकूमत मुस्लमानों की तरक़्क़ी के मुआमले में अपने अह्द की पाबंद है।

TOPPOPULARRECENT