Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / मुस्लिम उम्मीदवारों को 4 फीसद तहफ़्फुज़ात से महरूम करने की साज़िश

मुस्लिम उम्मीदवारों को 4 फीसद तहफ़्फुज़ात से महरूम करने की साज़िश

तेलंगाना क़ानूनसाज़ कौंसल में क़ाइद अप्पोज़ीशन मुहम्मद अली शब्बीर ने तेलंगाना पब्लिक सर्विस कमीशन के तक़र्रुरात में मुस्लिम उम्मीदवारों को 4 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात से महरूम करने की साज़िश पर सख़्त एहतेजाज किया। उन्होंने बी सी ई ज़मुरा से ताल्लुक़ रखने वाले मुस्लिम तलबा के लिए कास्ट सर्टीफ़िकेट के इलावा नान क्रीमी लीवर सर्टीफ़िकेट पेश करने के लज़ूम पर सख़्त तन्क़ीद की।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना हुकूमत जो मुसलमानों की हमदर्दी के बुलंद बाँग दावे कर रही है इन दावों की हक़ीक़त खुल चुकी है। हुकूमत रोज़गार में मुसलमानों की कम नुमाइंदगी का हवाला देकर मुसलमानों की हमदर्दी हासिल करना चाहती है लेकिन पब्लिक सर्विस कमीशन के तक़र्रुरात में मुसलमानों की नुमाइंदगी को घटाने की साज़िश तैयार की गई।

मुहम्मद अली शब्बीर ने कहा कि वो इस मसअले पर सदर नशीन पब्लिक सर्विस कमीशन से बातचीत करेंगे। उन्होंने कहा कि ये इंतिहाई अफ़सोसनाक है कि राज़दाराना तौर पर हुकूमत ने मुत्तहदा आंध्र हुकूमत के फ़ैसला को बरक़रार रखते हुए मुस्लिम उम्मीदवारों के लिए मसाइल में इज़ाफ़ा कर दिया है।

उन्होंने कहा कि जिस तरह दीगर पसमांदा तबक़ात के उम्मीदवारों के लिए नान क्रीमी लेयर सर्टीफ़िकेट पेश करना लाज़िमी नहीं है उसी तरह मुस्लिम उम्मीदवारों को भी अलाहिदा सर्टीफ़िकेट की पेशकशी से मुस्तसना क़रार दिया जाए। उन्होंने हुकूमत से मुतालिबा किया कि वो फ़ौरी तौर पर अहकामात जारी करे कि मुस्लिम उम्मीदवारों की जानिब से पेश किया गया बी सी ई सर्टीफ़िकेट ही तक़र्रुरात के लिए काफ़ी हो।

हुकूमत के इशारों पर कमीशन कारफ़रमा है और तक़र्रुरात में मुस्लिम उम्मीदवारों को तहफ़्फुज़ात से महरूम रखने के लिए साज़िश रची गई है। उन्होंने इंतिबाह दिया कि अगर हुकूमत फ़ौरी इस सिलसिला में तरमीम नहीं करेगी तो कांग्रेस पार्टी एहतेजाज पर मजबूर हो जाएगी।

TOPPOPULARRECENT