Monday , April 24 2017
Home / Politics / मुस्लिम और पिछड़ों को अलग कर आर्थिक विकास नामुमकिन- पी चिदंबरम

मुस्लिम और पिछड़ों को अलग कर आर्थिक विकास नामुमकिन- पी चिदंबरम

चेन्नई। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने सोमवार को भाजपा पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि क्या सबसे बड़े अल्पसंख्यक समुदाय या महिलाओं या पिछड़े समुदायों को अलग रखकर दीर्घकालीन आर्थिक तरक्की सुनिश्चित की जा सकती है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के ‘स्पष्ट विजेता’ के तौर उभरने का उल्लेख करते हुए चिदंबरम ने कहा, ‘यह जीत भाजपा ने 403 सीटों वाले प्रदेश में एक भी मुस्लिम को टिकट नहीं देकर हासिल की है जहां 19।3% मुस्लिम आबादी है। ऐसे में ‘सबका साथ, सबका विकास’ के नारे का एक नया और भयावह अर्थ निकला है।’

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘उस परिस्थिति की कल्पना करिए जिसमें कोई एक राष्ट्रीय पार्टी किसी महिला को टिकट नहीं दे या उस हालात के बारे में सोचिए जहां एक राष्ट्रीय पार्टी अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित सीटों पर उम्मीदवार खड़ा करने से इनकार कर दे।’ उन्होंने ‘द हिंदू सेंटर फॉर पॉलिटिक्स एवं पब्लिक पॉलिसी’ की ओर आयोजित एक व्यख्यान में यह बात रखी।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT