Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / मुस्लिम तालिबा के नाम पर हिंदू लड़की मेडीकल कॉलेज में ज़ेर-ए-तालीम

मुस्लिम तालिबा के नाम पर हिंदू लड़की मेडीकल कॉलेज में ज़ेर-ए-तालीम

एस वे मेडीकल कॉलेज तिरूपति के ओहदेदारों को ये जान कर हैरत हुई कि उन के कॉलेज में ज़ेर-ए-तालीम तालिबा फ़र्ज़ी है ।

एस वे मेडीकल कॉलेज तिरूपति के ओहदेदारों को ये जान कर हैरत हुई कि उन के कॉलेज में ज़ेर-ए-तालीम तालिबा फ़र्ज़ी है ।

वो दूसरी तालिबा के नाम पर पिछ्ले चार साल से कॉलेज में मेडीकल की तालीम हासिल कररही है । मीडीया ने इन्किशाफ़ किया है कि जिस तालिबा को मेडीकल में सीट हासिल हुई थी वो कॉलेज में दाख़िला लेने से पहले ही इंतिक़ाल करगई थी उस लड़की के नाम पर दूसरी तालिबा ने दाख़िला हासिल करलिया ।

इस बात का इन्किशाफ़ हुआ है कि अलीखा रेड्डी नामी तालिबा ने एमसेट 2004 में हिस्सा लिया था लेकिन सीट हासिल नहीं करसकी । इस ने मुस्लिम लड़की मुमताज़ की जगह हासिल करते हुए कॉलेज के इंतिज़ामीया को राज़ी करलिया और मेडीकल कॉलेज में दाख़िला ले लिया ।

इस तालिबा ने अच्छे नंबरात से 2006 में दाख़िला हासिल किया था । मुस्लिम तालिबा मुमताज़ एमसेट में बेहतरीन रैंक हासिल करने के बावजूद दाख़िले से पहले इंतिक़ाल कर गई थी । इसी तरह तिब्बी शोबे में फ़र्ज़ी नाम से कई लोग काम कररहे हैं ।

एक फ़र्ज़ी डाक्टर का भी पता चला है जो गर्वनमैंट रोया कॉलेज में हाउज़ सर्जन की हैसियत से काम कररही थी।इस ख़ातून डाक्टर पर ये भी इल्ज़ाम है कि इस ने आरोग्य श्री से इस्तिफ़ादा करने वाले मरीज़ों को ख़ानगी दवा ख़ानों से रुजू किया और सरकारी दवाख़ाना की क़ीमती अदवियात का सरका क्या ।

इस हक़ीक़त का और कॉलेज में पढ़ने वाली फ़र्ज़ी तालिबा तक किसी ने भी शनाख़्त नहीं की इस से ये शुबा पैदा होता है कि मेडीकल कॉलेजों में तालिबा और कॉलेज ओहदेदारों के दरमयान साज़ बाज़ होती है ।

पुलिस ने फ़र्ज़ी तालिबा अलीखा रेड्डी को गिरफ़्तार करलिया है ।

TOPPOPULARRECENT