Sunday , July 23 2017
Home / International / मुस्लिम युवा ईस्टर के मौके पर चर्चो को संरक्षण देने के लिए तैयार

मुस्लिम युवा ईस्टर के मौके पर चर्चो को संरक्षण देने के लिए तैयार

अम्मान – जॉर्डन के मुस्लिम युवाओ ने ईस्टर रविवार को पूरे राज्य के चर्चों मे सुरक्षा प्रदान करने की एक पहल का शुभारंभ किया।

यह पहल पिछले हफ्ते मिस्र में दो चर्चों पर हमले के बाद आयी है।

मिस्र के ‘तंता’ और ‘अलेक्जेंड्रिया’ में दो कॉप्टिक चर्चों पर हमलों ने 44 लोगों की जान ले ली और 100 से ज्यादा भक्तों को घायल कर दिया जिनमें से कई बच्चे थे।

“रविवार को चर्च मे हमारे ईसाई भाइ और बहन धार्मिक अनुष्ठान और रसमे पूरी कर रहे होंगे और चरमपंथी समूह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को धमकी दे रहे हैं … मेरे मुस्लिम मित्र और मैं बाल्का राज्यपाल में होंगे और उसके चर्चों और लोगों की रक्षा करेंगे,” काज़ेम खराबशेह ने कहा।

जैश बार-बार राज्य की सुरक्षा के खिलाफ खतरों के बयान जारी कर रहा है।

एक और बलका निवासी ‘फैज रुकिइडी’ ने कहा कि सतर्कता का मतलब है “जॉर्डनियों की एकता को रेखांकित करना और हर किसी को अपने धर्म को बिना मजबूरी या डर के अभ्यास करने की स्वतंत्रता देना”।

मादाबा में ‘हज़ेम अल फौकहाह’ ने कहा कि कई मुस्लिम निवासियों को चर्च के सामने गार्ड के रूप में खड़ा किया जाएगा ताकि वे ईसाइयों की सुरक्षा सुनिश्चित कर सकें।

” हम हमेशा गर्व महसूस करते हैं कि जॉर्डन मोज़ेक के सामंजस्यपूर्ण टुकड़ों से बना है; यह बहुत दुखपूर्ण बात है की जॉर्डन में आवश्यकता के कारण ऐसे सुरक्षा कदम उठाने पड़ रहे हैं । हम एक छोटे देश मे रहते हैं और हम यहाँ सभी को जानते हैं “अम्मान के निवासी ‘हला सादी’ ने जॉर्डन टाइम्स को बताया।

पूरे देश मे चर्चों के द्वार पर कई सुरक्षा चौकियां स्थापित की गईं जिससे कि पूजा करने वालों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।

TOPPOPULARRECENT