Sunday , June 25 2017
Home / Politics / मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए RSS ने चला नया दांव

मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए RSS ने चला नया दांव

लखनऊ: अभी कुछ दिन पहले भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने मुसलमानों को लेकर बागपत जिले में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि मुसलमानों ने न तो भाजपा को कभी वोट दिया है और न ही कभी देंगे, उन्हें मुस्लिम वोट की जरूरत नहीं है. लेकिन यूपी का चुनाव नजदीक आते ही भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ चुनाव जीतने के लिए हर तरह के हथकंडे अपनाने में लगे हैं. उनकी बात के उलट राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुस्लिम संगठन, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने यूपी में मुस्लिमों को बीजेपी के पक्ष में करने के लिए बैठकों का दौर शुरू कर दिया है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

नेशनल दस्तक के अनुसार, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय नेता यूपी के मुस्लिम बहुल इलाकों में मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए मीटिंग कर रहे हैं.
मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के एक नेता ने कहा कि कुछ लोग मुस्लिमों को बीजेपी के खिलाफ भड़काने का काम कर रहे हैं, जिसका असर भी दिख रहा है.
उन्होंने माना कि नोटबंदी के फैसले का भी असर दिख रहा है और मुस्लिम अपनी दिक्कतों का हवाला देकर बीजेपी के खिलाफ बात कर रहे हैं. मुस्लिम वोटरों के मन में बीजेपी की छवि सुधारने के लिए मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने मंगलवार से यूपी में मीटिंग शुरू की है. मंगलवार को अमरोहा में मीटिंग हुई और गुरुवार को रामपुर में.
सूत्रों के मुताबिक मंच के लोगों ने जब यूपी में मुस्लिम वोटरों का मन टटोटले की कोशिश की, तब यह सामने आया कि बीजेपी से उनकी नाराजगी बढ़ रही है. मंच के मुताबिक, एक तो ”ट्रिपल तलाक” मसले पर उन्हें लग रहा है कि बीजेपी उनके मजहब में हस्तक्षेप कर रही है, साथ ही मुस्लिमों का मानना है कि मोदी सरकार उनपर यूनिफॉर्म सिविल कोड भी थोपने की कोशिश कर रही है.
गौरतलब है कि ‘ट्रिपल तलाक’ के मुद्दे पर मुस्लिम समाज बीजेपी से नाराज दिख ही रहे थे, वहीं अब नोटबंदी की वजह से बीजेपी की दिक्कतें बढ़ती दिख रहीं हैं. जिस वजह से मुस्लिमों को मनाने का बीड़ा मुस्लिम राष्ट्रीय मंच उठा रहा है.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT