Thursday , October 19 2017
Home / India / मुस्लिम ख़ातून पर आलाज़ात वालों का हमला

मुस्लिम ख़ातून पर आलाज़ात वालों का हमला

सीवान ( बिहार ) 08 जनवरी: (पीटीआई)समाजी इम्तियाज़ के एक अफ़सोसनाक वाक़िया में इकलेती बिरादरी से ताल्लुक़ रखने वाली एक ख़ातून नायब मुखिया और इसके फ़र्ज़ंद पर आलाज़ात के अफ़राद ने उनके रूबरू कुर्सी पर बैठने की जुरात करने पर हमला का निशाना बना

सीवान ( बिहार ) 08 जनवरी: (पीटीआई)समाजी इम्तियाज़ के एक अफ़सोसनाक वाक़िया में इकलेती बिरादरी से ताल्लुक़ रखने वाली एक ख़ातून नायब मुखिया और इसके फ़र्ज़ंद पर आलाज़ात के अफ़राद ने उनके रूबरू कुर्सी पर बैठने की जुरात करने पर हमला का निशाना बनाया ।

ये वाक़िया बिहार के सीवान ज़िला में पेश आया है । सरकारी ज़राए ने ये बात बताई । ये वाक़िया कल पेश आया जबकि ख़ातून नायब मुखिया अस्मा ख़ातून ने कोरिया ग्राम पंचायत में मुनाक़िदा एक इजलास में कुर्सी इस्तेमाल की । ये इजलास सरकारी स्कूल के अहाता में मुनाक़िद हुआ था ।

आलाज़ात के अफ़राद ने इस 60 साला ख़ातून के कुर्सी पर बैठने पर शदीद एतराज़ किया । उनके फ़र्ज़ंद आफ़ताब भी कुर्सी पर बैठे थे । आलाज़ात वालों ने कहा कि इन दोनों का कुर्सी पर बैठना उन की तौहीन है । आफ़ताब ने इल्ज़ाम आइद किया कि आलाज़ात से ताल्लुक़ रखने वाले छः अफ़राद ने उनकी वालदा पर हमला करके उन्हें ज़ख्मी कर दिया क्योंकि उन्होंने कुर्सी पर बैठने की जसारत की थी ।

ये वाक़िया पंचायत इजलास के दौरान पेश आया । आलाज़ात वालों का कहना था कि उनके सामने कोई भी कुर्सियों पर बिराजमान नहीं हो सकता। आफ़ताब ने बताया कि उन पर भी हमला किया गया था लेकिन वो वहां से बच निकलने में कामयाब हो गए । अस्मा ख़ातून को सदर हॉस्पिटल में शरीक किया गया है ।

सीवान के ज़िला सुप्रीटेंडनेंट पोलीस सत्य वीर सिंह ने कहा कि इस सिलसिला में छः मुल्ज़िमीन के ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज कर ली गई है और उन ख़ातियों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी । इन मुल्ज़िमीन को गिरफ़्तार करने तलाशी मुहिम शुरू कर दी गई है । बिहार इकलेती कमीशन ने भी इस वाक़िया का सख़्त नोट लिया है और इसके सदर नशीन नौशाद अहमद ने भी आफ़ताब से बात चीत करते हुए इस वाक़िया पर तफ़सीलात से आगही हासिल की ।

उन्होंने कहा कि आफ़ताब ने उन्हें सारा वाक़िया सुना दिया है और ये अंदेशा ज़ाहिर किया है कि मुल्ज़िमीन से उसकी ज़िंदगी को भी ख़तरा लाहक़ हो गया है जिन्होंने उन के घर तक जाने का रास्ता भी बंद कर दिया है । मिस्टर नौशाद अहमद ने कहा कि उन्होंने ज़िला पुलिस से कहा है कि वो मुतास्सिरा ख़ानदान को मुनासिब सिक्योरिटी फ़राहम करे और मुल्ज़िमीन के ख़िलाफ़ संगीन नताइज-ओ-अवाक़िब की धमकियां देने पर अलैहदा एफ आई आर दर्ज की जाये ।

TOPPOPULARRECENT