Saturday , October 21 2017
Home / Bihar News / मूअज़्ज़िन की दाढ़ी नोचने पर इलाक़े में काशीदगी

मूअज़्ज़िन की दाढ़ी नोचने पर इलाक़े में काशीदगी

नवादा जिला के अकबरपुर ब्लॉक के तहत बलिया पंचायत की मस्जिद के मूअज़्ज़िन साबिर शाह की दाढ़ी शरपसंद अनासिर की जानिब से नोचने पर इलाक़े में सनसनी और इंसाफपसंद लोगों के दरमियान गम व गुस्सा की कैफियत पायी जा रही हैं।

नवादा जिला के अकबरपुर ब्लॉक के तहत बलिया पंचायत की मस्जिद के मूअज़्ज़िन साबिर शाह की दाढ़ी शरपसंद अनासिर की जानिब से नोचने पर इलाक़े में सनसनी और इंसाफपसंद लोगों के दरमियान गम व गुस्सा की कैफियत पायी जा रही हैं।

वाजेह हो की गुजिशता दिनों साबिर शाह गाँव के ही लोगों के दरमियान से फातिहा ख्वानी की रस्म अदा करके वापस आ रहे थे की रास्ते में कैला यादव वालिद राजू यादव ने साथियों के साथ मिल कर इलाक़े के मूअज़्ज़िन के साथ काली गलौज मारपीट और नज़ेबा हरकत से पेश आने के बाद उनकी दाढ़ी नोच ली। दाढ़ी नोचने के बाद साबिर शाह जाए वाकिया पे ही बेहोश होकर गिर पड़े और जख्मी हालत में ही उन्हें अकबरपुर थाना ले जाकर सनाह दर्ज़ कराई गयी और इलाजा के बाद डॉक्टर की रिपोर्ट भी मौजूद है लेकिन अकबरपुर थाना इंचार्ज की सर्द मुहरी पर लोगों को ताज्जुब हो रहा है। और अभी तक मुल्ज़िम की गिरफ्तारी नहीं हुयी है। मुजरिम कैला यादव अपने ससुराल में सुकून से हैं।

मुक़ामी बाशिंदा रफ़ीक़ शाह ने बताया की वाकियात की इत्तिला अकबरपुर थाना को दी जा चुकी है वाकिया की इत्तला जोली सब डिवीजन के एसडीपीओ सैफुर्रहमान को भी दी गयी इत्तिला मिलते ही एसडीपीओ सैफुर्रहमान हरकत में आ गए और गम व गुस्सा का इज़हार करते हुये मुजरिम को जल्द से जल्द गिरफ्तार करके सख्त से सख्त सजा देने की बात काही तादम तहरीर मुजरिम कैला यादव फरार है समाजी व मिल्ली रहनुमा और लोक जन शक्ति पार्टी के रियासती सदर क़ैसर ह्यात पकरी बरवान ने इस गैर महजबाना हरकत की सख्त अलफाज में मज़मत करते हुये जम्हूरियत पर बदनुना दाग बताया उन्होने बताया की सिर्फ साबिर शाह की दाढ़ी नहीं नोची गई बल्कि हिंदुस्तान में बस्ने वाले 25 करोड़ मुसलमानों की दाढ़ी नोची गई क्योंकि दाढ़ी एक मजहबी शआर है और हिंदुस्तान में किसी भी मजहबी अकाईद व शआर ज़रब लगाने का मतलब जम्हूरियत का मजाक उड़ाना और जम्हूरियत का मज़ाक उड़ाने वाला वतन का दुश्मन होता है लिहाजा इस पर मुल्क दुश्मन का भी मुकदमा चलाया जाये क्योंकि इसने ऐसी हरकत करके जम्हूरियत को तार-तार कर दिया।

ज़रूरत इस बात की है की इस को गिरफ्तार किया जाय और आइंदा कोई गैर जम्हूरि, गैर आयनी, और गैर कानूनी करवायों से एहतेराज कर सके। मौसूफ़ ने मजीद बताया की दर असल ये आरएसएस और उसकी हमनवा तंज़िमों का मक़सद है की मुसलमानों की मजहबी शआर को निशाना बनाकर उन्हें मुश्तईल किया जाये। मुक़ामी लोगों का कहना है की अगर दो दिनों के अंदर उनकी गिरफ्तारी अमल में नहीं आई तो हमलोग एहतेजाज व मुजाहिरा पर उतर आएंगे इस सिलसिले में एक अर्जदाश्त आज नवादा के एसपी डॉक्टर परवेज़ अख्तर को सौंपी जाएगी जिस्में जल्द गिरफ्तारी और कानूनी कार्रवाई का मुतालिबा किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT