Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / मेट्रो रेल से हैदराबाद ट्रांसपोर्ट निज़ाम में इन्क़िलाबी तबदीली

मेट्रो रेल से हैदराबाद ट्रांसपोर्ट निज़ाम में इन्क़िलाबी तबदीली

अल एंड टी मेट्रो रेल और मेवज़ आर्ट गैलरी के ज़ेर एहतेमाम हैदराबाद मेट्रो रेल के तामीरी कामों की पेशरफ़्त की तस्वीरों की नुमाइश Metro Chronicles thru the Lenzका होटल मेरयाट में नायब सदर नशीन मैनेजिंग डायरेक्टर आंध्र प्रदेश इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट

अल एंड टी मेट्रो रेल और मेवज़ आर्ट गैलरी के ज़ेर एहतेमाम हैदराबाद मेट्रो रेल के तामीरी कामों की पेशरफ़्त की तस्वीरों की नुमाइश Metro Chronicles thru the Lenzका होटल मेरयाट में नायब सदर नशीन मैनेजिंग डायरेक्टर आंध्र प्रदेश इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट कारपोरेशन जयश रंजन ने किया।

इस नुमाइश में हैदराबाद के सरकरदा फोटोग्राफर्स जैसे अरविंद चेंजी, नम्रता रो पारी, रणजीत कुमार ताएई, चन्दू दातला की तसावीर को पेश किया गया।

इस मौके पर अख़बारी नुमाइंदों से बात चीत करते हुए जयश रंजन ने कहा कि एल एंड टी मेट्रो रेल एक एसे प्रोजेक्ट को रोबामल लारही है जिस से रियासत के सदर मुक़ाम में एक इन्क़िलाबी तबदीली आएगी। मास ट्रांसपोर्ट सिस्टम के आग़ाज़ के बाद हैदराबाद में ग़ैरमामूली तब्दीलियां आएंगी।

एल एंड टी और मेट्रो रेल ने तामीरी कामों की पेशरफ़्त के मुख़्तलिफ़ मरहलों की तसावीर को इकट्ठा कररहे हैं जो एक बहतरीन असासा साबित होंगे और आने वाली नसलों को पता चलेगा कि मेट्रो रेल प्रोजेक्ट किस तरह पाया तकमील को पहुंचा है।

उन्होंने कहा कि इन तसावीर को भी मेट्रो रेल म्यूज़ीयम का हिस्सा बनाना चाहीए। मैनेजिंग डायरेक्टर हैदराबाद मेट्रो लिमिटेड एन वि एस रेड्डी ने कहा कि मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की तकमील के बाद हैदराबाद का रुख़ ही तब्दील होजाएगा।

हैदराबाद की तारीख को भी इस प्रोजेक्ट के बाइस दो हिस्सों में बांटा जाएगा। माक़बल मेट्रो रेल प्रोजेक्ट और माबाद मेट्रो रेल प्रोजेक्ट ,हैदराबादी तारीख की तारीफ़-ओ-तौज़ीह की जाएगी।

उन्होंने कहा कि दुनिया के कई बड़े शहरों में दहों पहले ही से मास ट्रांसपोर्ट निज़ाम मौजूद हैं मगर ये प्रोजेक्टस कैसे मरहला वार पाया तकमील को पहुंचा उन के तस्वीरी शवाहिद डाटा मौजूद नहीं है मगर इस एतेबार से हैदराबाद ख़ुशकिसमत है कि हैदराबाद मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की मरहला वार पेशरफ़्त को मुख़्तलिफ़ ज़ावियों से महफ़ूज़ रखा जा रहा है और मुख़्तलिफ़ सरकरदा फोटोग्राफर्स मेट्रो रेल के तुएं अपनी दिलचस्पी का एसा मुज़ाहरा कररहे हैं कि उन की खींची जाने वाली तसावीर ना सिर्फ़ अछूती हैं बल्कि एक वक़्त आएगा कि वो नादिर-ओ-नायाब समझी जाएंगी।

उन्होंने कहा कि हर तीन माह के वक़फ़ा से इसी तस्वीरी नुमाइश का एहतेमाम किया जाएगा जिस में प्रोजेक्ट की पेशरफ़्त को तस्वीरों के ज़रीये पेश किया जाएगा।

हर नुमाइश में 100 मुंतख़ब तस्वीरों की नुमाइश की जाएगी। इस मौके पर चीफ एकज़ेकटेव एंड मैनेजिंग डायरेक्टर एल एंड टी मेट्रो रेल (हैदराबाद) वि बी गेडगल भी मौजूद थे जिन्हों ने कहा कि उल्टी के पास मुल्क के बहतरीन एनजे नर्स की टीमें मौजूद हैं जो जदीद और असरी टेक्नॉलोजी का इस्ततेमाल करते हैं और जिन की महारत मुस्लिमा है।

TOPPOPULARRECENT