Sunday , October 22 2017
Home / India / मेमो स्कैंडल: मंसूर एजाज़ का यासीन मलिक पर इल्ज़ाम

मेमो स्कैंडल: मंसूर एजाज़ का यासीन मलिक पर इल्ज़ाम

कश्मीरी अलैहदगी पसंद लीडर यासीन मलिक ने मेमो स्कैंडल की तहक़ीक़ात कर रहे पाकिस्तानी पैनल को एक दरख़ास्त पेश की है जिसमें उन्होंने कहा कि मुतनाज़ा अमेरीकी ताजिर ने इन (यासीन मलिक) के साबिक़ सीनीयर ओहदेदार के साथ रवाबित का जो दावा

कश्मीरी अलैहदगी पसंद लीडर यासीन मलिक ने मेमो स्कैंडल की तहक़ीक़ात कर रहे पाकिस्तानी पैनल को एक दरख़ास्त पेश की है जिसमें उन्होंने कहा कि मुतनाज़ा अमेरीकी ताजिर ने इन (यासीन मलिक) के साबिक़ सीनीयर ओहदेदार के साथ रवाबित का जो दावा किया है , इसके बारे में वज़ाहत का मौक़ा दिया जाना चाहीए।

यासीन मलिक की पाकिस्तानी अहलिया मीशल मलिक ने कल ये दरख़ास्त पेश की जिसके बाद मेमो स्कैंडल में यासीन मलिक को भी फ़रीक़ बनाया जाएगा। मंसूर एजाज़ ने ये कहते हुए सयासी और सिफ़ारती हलक़ों में बोहरान पैदा करदिया था कि ऐबटाबाद में 2 मई को ओसामा बिन लादेन की हलाकत के बाद मुल्क में फ़ौजी बग़ावत के अंदेशों से निमटने के लिए अमेरीकी मदद तलब की गई थी।

उन्होंने पुरासरार मेमो अवाम के सामने पेश कर दिया। उन्होंने पूछताछ के दौरान ये दावा किया है कि यासीन मलिक और साबिक़ सरबराह रिसर्च ऐंड एनालाइसीस विंग (रा) सी डी सहाय के माबैन मुलाक़ात का उन्होंने एहतेमाम करवाया था।

इस दावे के बाद यासीन मलिक सुप्रीम कोर्ट के नामज़द जोडीशील कमीशन से रुजू हुए हैं। यासीन मलिक के वकील ज़फ़र अहमद शाह ने श्रीनगर में बताया कि पाकिस्तान के चीफ़ जस्टिस इफ़्तेख़ार चौधरी को मकतूब रवाना किया गया है, जिसमें कहा गया है कि यासीन मलिक को कमीशन के रूबरू पेश होकर अपना मौक़िफ़ वाज़िह करने का मौक़ा दिया जाना चाहीए।

TOPPOPULARRECENT