Wednesday , September 20 2017
Home / Business / मेरी छवि को चोट पहुंचाने की कोशिश की गई है, लेकिन सच्चाई एक दिन सामने आएगी: रतन टाटा

मेरी छवि को चोट पहुंचाने की कोशिश की गई है, लेकिन सच्चाई एक दिन सामने आएगी: रतन टाटा

मुंबई: साइरस मिस्त्री के साथ खींचतान को लेकर रतन टाटा ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि बीते दो महीने में उनकी व्यक्तिगत छवि को चोट पहुंचाने की कोशिश की गई है। शुक्रवार को उन्होंने यह भी कहा कि आखिर में सब सच्‍चाई सामने आ जाएगी।

रतन टाटा ने कहा, “ये दिन बहुत ही अकेलेपन वाले रहे हैं, क्योंकि अखबार उन हमलों से भरे हुए हैं जिनमें से ज्यादा निराधार लेकिन बहुत पीड़ादायक हैं।” उन्होंने यह भी कहा, “यह समूह 150 साल से है। यह कंपनी संचालन और समान अवसर पर आधारित है। मुझे लगता है कि सच्‍चाई सामने आएगी, भले ही उसकी जो भी प्रक्रिया हो, जितनी भी पीड़ादायी प्रक्रिया हो।”

दरअसल, यह बैठक टाटा कैमिकल्स के बोर्ड की असाधारण आम बैठक साइरस मिस्त्री और उनके समर्थक नुस्ली वाडिया को निदेशक मंडल पद से हटाने के एक प्रस्ताव पर विचार के लिए बुलाई गई थी। चूंकि मिस्त्री पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं इसलिए शेयरधारकों ने केवल वाडिया को ही लेकर मतदान किया। रतन टाटा ने कहा कि वे इस दौरान सभी शेयरधारकों से मिले समर्थन और स्नेह से अभिभूत हैं।

गौरतलब है कि 24 अक्टूबर को टाटा संस के चेयरमैन पद से साइरस मिस्त्री को अचानक हटा दिया गया था। उसके बाद रतन टाटा को अंतरिम चेयरमन बनाया गया था। उसके बाद से मिस्त्री खुद को हटाए जाने को लेकर टाटा समूह पर आरोप लगाए।

TOPPOPULARRECENT