Sunday , October 22 2017
Home / Bihar News / ‘मेरे ख़िलाफ़ सियासी साज़िश रची गई है’

‘मेरे ख़िलाफ़ सियासी साज़िश रची गई है’

बी जे पी के एक सीनिय‌र लीडर जिन का ताल्लुक़ बिहार से है, ने दावा किया कि उन के मकान से जो एक करोड़ रुपये की रक़म बरामद हुई है, वो उन की नहीं है। उन्होंने कहा कि वो रक़म उनके एक कज़न की है। गिरीराज सिंह हमेशा तनाज़आत से पाक रहा और हमेशा ऐसा ही

बी जे पी के एक सीनिय‌र लीडर जिन का ताल्लुक़ बिहार से है, ने दावा किया कि उन के मकान से जो एक करोड़ रुपये की रक़म बरामद हुई है, वो उन की नहीं है। उन्होंने कहा कि वो रक़म उनके एक कज़न की है। गिरीराज सिंह हमेशा तनाज़आत से पाक रहा और हमेशा ऐसा ही रहेगा।

उन्होंने ख़ुद को ज़मीर ग़ायब के तौर पर इस्तिमाल करते हुए ये जवाब दिया। 61 साला गिरी राज सिंह ने लोक सभा इंतिख़ाबात की मुहिम के दौरान उस वक़्त वज़ीर-ए-आज़म के ओहदा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर तन्क़ीद करने वालों से पाकिस्तान चले जाने की बात की थी।

जारिया हफ़्ता पटना में उनके अपार्टमेंट में सरका की वारदात भी रुनुमा हुई थी जिस में मुलव्वस पाए गए चार अफ़राद की गिरफ़्तारी अमल में आई थी और हैरत अंगेज़ तौर प्रसारकों ने पुलिस को एक करोड़ रुपये और साथ ही साथ 600 डॉलर्स नक़द रक़म के इलावा, कई कीमती दस्ती घड़ियां और ज़ेवरात ये कह कर हवाले किए कि ये सब उन्होंने गिरी राज सिंह के मकान से सरका किया है।

पुलिस कम से कम नक़द रक़म के बारे में गिरीराज सिंह से पूछगछ करेगी कि अपने इंतिख़ाबी पर्चा नामज़दगी में उन्हों ने जितनी नक़द रक़म उन की मलकीत बताई थी उस की मालियत सिर्फ़ दो लाख रुपये थी। गुजिश्ता रात‌ अख़बारी नुमाइंदों से बात करते हुए गिरीराज सिंह ने कहा कि ये उनके ख़िलाफ़ सियासी साज़िश है।

TOPPOPULARRECENT