Thursday , August 17 2017
Home / Crime / मेवात डबल मर्डर और गैंगरेप की होगी सीबीआई जांच !

मेवात डबल मर्डर और गैंगरेप की होगी सीबीआई जांच !

नई दिल्ली। आख़िरकार हरियाणा के मेवात जिले में गैंगरेप मामले की जांच अब सीबीआई करेगी। मेवात के तावड़ू खंड के गांव डिंगरहैड़ी के डबल मर्डर और गैंगरैप मामले में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर भी गाज गिरेगी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर ने ये आश्वासन मंगलवार को चंदीगढ़ में मेवात के 11 प्रमुख सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के दौरान दिया है।

डिंगरहैड़ी के पीड़ितों को इंसाफ दिलाने के लिये पहली सितंबर को तावडू की महापंचायत में आयोजित की गई 36 बिरादरी महापंचायत में 6 मांगें रखी गई थीं। उन मांगों को मानने के लिये सरकार को तीन दिन का समय दिया गया था, लेकिन सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया। उसके बाद यहां के सभी राजनेता और प्रमुख लोगों से बैठक कर फैसला लिया कि सरकार को और समय दिया जाए तथा सीएम से मिलकर उनकी भावनाओं से अवगत कराया जाए।

मुख्यमंत्री से मिलने के लिए फिरोजपुर झिरका के विधायक नसीम अहमद, पुन्हाना के विधायक रहीश खान, नूंह से इनेलो विधायक ज़ाकिर हुसैन, पूर्व मंत्री आफताब अहमद, पूर्व मंत्री मो. इल्यास, नूंह जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष आबिद खान, शौकत एडवोकेट, नूरदीन एडवोकेट, समाजसेवी किशोर यादव, ताहिर एडवोकेट देवला और मोहम्मद तलहा एडवोकेट का एक प्रतिनिधिमंडल गया था।

सीएम ने सभी मांगों को मानते हुए आगे की जांच सीबीआई से कराने का वादा किया। वहीं पीडित परिवार को उचित मुआवजा देने, लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई करने का भरोसा दिया। इन लोगों ने मुख्यमंत्री से कहा कि 1 सितंबर को तावड़ू महापंचायत के निर्णयों पर हरियाणा सरकार ने पूरी तरह से अमल नहीं किया है, बल्कि पुलिस द्वारा मुलजिमों को अब भी बचाने के भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। पुलिस अधिकारियों की भूमिका संदेह के दायरे में है, जो डिंगरहैड़ी कांड की जांच से जुड़े हुए हैं।

TOPPOPULARRECENT