Friday , October 20 2017
Home / Hyderabad News / मेहंदी में ज़्यादा कैमीकल्ज़ की वजह से री ऐक्शन‌

मेहंदी में ज़्यादा कैमीकल्ज़ की वजह से री ऐक्शन‌

हैदराबाद।२२अगसट (सियासत न्यूज़)। ईद-उल-फ़ित्र के मौक़ा पर विजय‌ वाड़ा, अनंत पर और आंधरा के बाअज़ दीगर इलाक़ों में हाथों पर लगाई जाने वाली मेहंदी ने ख़वातीन में ख़ौफ़-ओ-दहश्त की लहर पैदा करदी। इस के असरात हैदराबाद तक भी देखे गई। हैद

हैदराबाद।२२अगसट (सियासत न्यूज़)। ईद-उल-फ़ित्र के मौक़ा पर विजय‌ वाड़ा, अनंत पर और आंधरा के बाअज़ दीगर इलाक़ों में हाथों पर लगाई जाने वाली मेहंदी ने ख़वातीन में ख़ौफ़-ओ-दहश्त की लहर पैदा करदी। इस के असरात हैदराबाद तक भी देखे गई। हैदराबाद और तेलंगाना के मुख़्तलिफ़ अज़ला में ये अफ़्वाह शिद्दत के साथ फैल गई कि आंधरा में मेहंदी के इस्तिमाल से कई ख़वातीन की मौत वाक़्य हो गई ही?

हालाँकि ये इत्तिला बिलकुल बेबुनियाद थी और हक़ीक़त ये थी कि क़दीम मेहंदी और कैमीकल की मिलावट ज़्यादा होने के सबब ख़वातीन के हाथों में री ऐक्शन‌ देखा गया, जिस के बाद मुख़्तलिफ़ अफ़्वाहें गशतकरने लगीं। वजए वाड़ा, अनंत पर और कुरनूल में बाअज़ मसाजिद से ये ऐलान कर दिया गया कि ख़वातीन मेहंदी का इस्तिमाल ना करें, क्योंकि ये उन के लिए नुक़्सानदेह ही। येअफ़्वाह जब हैदराबाद में आम हुई तो उस वक़्त चांद रात में ख़वातीन मेहंदी और दीगर ज़रूरी अशीया की ख़रीदारी में मसरूफ़ थीं। बताया जाता है कि इस से मेहंदी की ख़रीदारी पर असर पड़ा और ख़वातीन इस अफ़्वाह की ज़द में आ गईं।

इत्तिलाआत के मुताबिक़ वजए वाड़ा के बाअज़ इलाक़ों में मेहंदी के ऐसे कौन (Cone) फ़रोख़त किए गए जो इंतिहाई क़दीम थे और उन की तैय्यारी में कैमीकल का ज़्यादा इस्तिमाल किया गया था। अगरचे कि इस के री ऐक्शन‌ से मुतास्सिर होने वालों की तादाद कम थी, लेकिन इस से फैलने वाली अफ़्वाह ने मेहंदी के कारोबार को बुरी तरह मुतास्सिर कर दिया।

मसाजिद से ऐलानात केबाइस अवाम में और भी तशवीश पैदा होगई। बताया जाता है कि वजए वाड़ा के भवानी पोरम में तक़रीबन 20 ख़वातीन को सुबह की इबतिदाई साअतों में ग्लोबल हॉस्पिटल से रुजूकिया गया, जिन की शिकायत थी कि मेहंदी के इस्तिमाल से उन के हाथों में छाले पड़ गए थी।

उन्हें इबतिदाई तिब्बी इमदाद के बाद घर रवाना करदिया गया। पैर की सुबह में कृष्णाज़िला के क‌लैक्टर ज्योति बुद्धा प्रसाद और वजए वाड़ा पुलिस कमिशनर इन मधूसुदन रेड्डी ने दवाख़ाना का दौरा किया और मालूमात हासिल कीं। मधूसुदन रेड्डी ने बताया कि इनवाक़ियात के सिलसिला में कोई गिरफ़्तारी अमल में नहीं आई है और वो अफ़्वाहों के बारे में तहक़ीक़ात कररहे हैं। पुलिस ने वजए वाड़ा शहर में मेहंदी फ़रोख़त करने वाले बाअज़ दुकानदारों से पूछताछ की।

अनंत पर ज़िला मैं सईदा नामी एक लड़की और इस की सहेली को इसी तरह की शिकायत पर दवाख़ाना से रुजू किया गया। बताया जाता है कि अफ़्वाहों की शिकार कई ख़वातीन सिर्फ इस अंदेशे के साथ दवाख़ाना से रुजू हुईं कि मेहंदी के इस्तिमाल से कहीं उन्हें री ऐक्शण ना होजाई। हिन्दू पर में इस वक़्त हल्की सी कशीदगी पैदा होगई, जब अवाम मेहंदी के इस्तिमाल से हलाकतों की इत्तिला के बाद सड़कों पर निकल आई।

अनंत पर ज़िला हैड क्वार्टर्स मैं महिकमा-ए-सेहत के ओहदेदारों ने कई मुक़ामात का दौरा किया और अवाम को इस बात का यक़ीन दिलाया कि मेहंदी के इस्तिमाल से कोई ख़तरा नहीं है और इस तरह अवाम को ख़ौफ़ज़दा होने की ज़रूरत नहीं ही। ज़िला में कोई नाख़ुशगवार वाक़िया पेश नहीं आया।

ज़िला चित्तूर के पीलीर, कल्ला काडा, काली करी और मद नापली इलाक़ों में भी अफ़्वाहों ने अपना काम किया। जहांख़वातीन बड़ी तादाद में दवाख़ाना पहुँचीं और अपने हाथों का मुआइना करवाया। अगरचे उन के हाथों पर कोई ज़ख़म नहीं थी। कुरनूल ज़िला मैं तेलगुदेशम‌ और दीगर जमातों के अक़ल्लीयती क़ाइदीन ने अवाम से मुलाक़ात की और उन्हें अफ़्वाहों पर भरोसा ना करने की अपील की। रियास्ती वज़ीर छोटी आबपाशी टी जी वेंकटेश ने भी अवाम से मुलाक़ात की और मालूमात हासिल की।

TOPPOPULARRECENT