Wednesday , August 23 2017
Home / Khaas Khabar / मैंने इस्लाम को हमेशा शांति का धर्म माना, लेकिन लोगों ने इसका गलत इस्तेमाल किया: सैफ अली खान

मैंने इस्लाम को हमेशा शांति का धर्म माना, लेकिन लोगों ने इसका गलत इस्तेमाल किया: सैफ अली खान

मुंबई: 20 दिसंबर को करीना ने एक खुबसूरत बेबी को जन्म दिया. सैफ करीना ने अपने बच्चे का नाम तैमूर अली खान रखा. जिसको लेकर ट्विटर पर लोगों ने खूब उल्टा-सीधा बोला. हिन्दुओं का नरंसहार करने वाले बर्बर सम्राट तैमूर लंग के नाम से जो़ड़ा गया. इस मुद्दे को लेकर बोलीवुड के कई सितारे आगे आकर आलोचना करने वाले को करारा जवाब दिया. साथ ही सैफ ने कहा कि मैं इसलाम को शांति पसंद धर्म मानता हूँ.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आज तक के अनुसार, सैफ अली खान ने कहा कि ये सब वाकई बहुत आउटडेटेड हो चुका है. इस्लाम को आधुनिकीकरण करना होगा. इस्लाम इससे ज्यादा कभी नापसंद नही किया गया. मैंने इस्लाम को हमेशा ही शांति और आत्मसमर्पण का धर्म माना. लेकिन वक्त के साथ लोगों ने इसका गलत इस्तेमाल किया. इसलिए मैंने खुद को लोगो के बनाए सभी फिरकों से अलग कर लिया.
बता दें कि इसी बीच सैफ अली खान का दो साल पुराना खुला खत सामने आया, जो आज इस मसले पर पूरी तरह से फिट बैठता है. उनहोंने अंतर्जातीय विवाह से लेकर लव जिहाद तक खुलकर अपनी बात रखी. उनहोंने कहा कि जब मैंने और करीना ने शादी की तो कई तरह की धमकियां मिली. लव जिहाद के बारे में खूब बातें हुई. हमने अपने नए घर में हवन के साथ कुरान भी पढ़ा और पुजारी ने पवित्र जल भी छिड़का. सैफ ने आगे कहा कई अच्छे लोग अपनी बेटी मुस्लिमों को देना पसंद नही करते. वो धर्म परिवर्तन, तलाक और बहुविवाह से डरते हैं.

TOPPOPULARRECENT