Saturday , October 21 2017
Home / India / मोदी का बी जे पी के विज़ारत अज़मी उम्मीदवार नामज़द होना यक़ीनी

मोदी का बी जे पी के विज़ारत अज़मी उम्मीदवार नामज़द होना यक़ीनी

आर ऐस ऐस तर्जुमान राम माधव का बयान ,ऐलान के वक़्त का ताय्युन बी जे पी की ज़िम्मेदारी

आर ऐस ऐस तर्जुमान राम माधव का बयान ,ऐलान के वक़्त का ताय्युन बी जे पी की ज़िम्मेदारी
आर एस एस ने वाज़िह कर दिया कि वो चाहती है कि बी जे पी नरेंद्र मोदी को विज़ारत अज़मी का उम्मीदवार मुक़र्रर करें। आर एस एस ने इद्दिआ किया कि मोदी को अवाम का एहतेराम और ताईद हासिल है जो तबदीली चाहते हैं लेकिन कहा कि ऐलान के वक़्त का फ़ैसला बी जे पी को करना चाहीए। आर एस एस के तर्जुमान राम माधव ने एक प्रेस कान्फ्रेंस से ख़िताब करते हुए कहा कि सिंह के अरकान का मुल्क गीर सतह पर अपने प्रोग्रामों के दौरान ये एहसास था कि अवाम तबदीली चाहती हैं।

राम माधव ने कहा कि मुल्क तबदीली चाहता है और आर एस एस और बी जे पी के इस मसले पर दो रोज़ा इजलास के दौरान भी ये मौज़ू उभर आया। आर एस एस की क़ियादत में बी जे पी की क़ियादत को अपने एहसास से वाक़िफ़ करवा दिया है। हमारी तरफ‌ से पैग़ाम दिया जा चुका है कि मुल्क के राय दहनदे तबदीली चाहते हैं।अब फ़ैसला करना बी जे पी का काम है। इस सवाल पर कि क्या वो चीफ़ मिनिस्टर गुजरात नरेंद्र मोदी का हवाला दे रहे हैं जबकि उन्होंने तबदीली की बात की है।

राम माधव ने जवाब दिया कि हम कह रहे हैं कि अवाम ख़ास तबदीली चाहते हैं। ये वाज़िह तौर पर अवाम इस ओहदे के लिए कौनसे शख़्स की ताईद करते हैं और किस का एहतेराम करते हैं। ये हर एक पर वाज़िह है। दो रोज़ा बी जे पी। आर ऐस एस की मख़सूस चोटी कान्फ्रेंस के इख़तेताम पर कल आर एस एस ने कहा था कि मोदी के बारे में पार्टी में किसी किस्म का तज़बज़ब या उथल पुथल नहीं है बल्कि वज़ीर-ए-आज़म के उम्मीदवार का कब ऐलान किया जाये इसका फ़ैसला बी जे पी को करना है।

राजनाथ सिंह ने निशानदेही की है कि बी जे पी का पारलीमानी बोर्ड इमकान है कि आइन्दा हफ़्ते अपना इजलास मुनाक़िद करेगा। वसीअ पैमाने पर तवक़्क़ो है कि बी जे पी नरेंद्र मोदी की सालगिरा से पहले जो 17 सितंबर को मुक़र्रर है उन्हें विज़ारत अज़मी का उम्मीदवार मुक़र्रर करने का ऐलान करेगी।

TOPPOPULARRECENT