Wednesday , October 18 2017
Home / Delhi News / मोदी का भावुक हो कर आंसू बहाना नाटकबाजी है- वृंदा करात

मोदी का भावुक हो कर आंसू बहाना नाटकबाजी है- वृंदा करात

नई दिल्ली। 500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद रविवार को गोवा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिए गए भावुक भाषण को सीपीआई (एम) की वरिष्ठ नेता बृंदा करात ने नाटकबाजी करार दिया है।

प्रधानमंत्री के 50 दिन का समय मांगने वाले बयान पर प्रतिक्रया देते हुए बृंदा करात ने कहा, ‘प्रधानमंत्री क्या जनता को भूख से बचने के लिए कुछ टाइम दे रहे हैं।’

उन्होंने कहा कि हम प्रधानमंत्री के आंसू देखें या उस विधवा के आंसू देखें, जिसे सुबह से रात तक काम करने के बाद वेतन नहीं मिल रहा है।
उन्होंने कहा कि 20 लाख कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा है। बृंदा करात ने पीएम के भावुक होने पर कहा कि ये प्रधानमंत्री की नाटकबाजी है।

गौरतलब है कि रविवार को गोवा में भाषण देते समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भावुक हो गए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोवा में जमकर कालाधन और भ्रष्टाचार पर हमला बोला, उन्होंने कहा कि कालाधन के बाद अब बेनामी संपत्ति वालों की बारी है, हम उन्हें नहीं छोड़ने वाले हैं।

TOPPOPULARRECENT