Wednesday , October 18 2017
Home / Bihar News / मोदी चाय बेचनेवाले, तो मैं चूहा मारनेवाला : वजीरे आला

मोदी चाय बेचनेवाले, तो मैं चूहा मारनेवाला : वजीरे आला

बिहार के वजीरे आला जीतन राम मांझी ने कहा कि झारखंड की आवाम मायावी जाल में नहीं फंसेगी। गरीबों के मसीहा नरेंद्र मोदी नहीं, बल्कि नीतीश कुमार और लालू प्रसाद हैं।

बिहार के वजीरे आला जीतन राम मांझी ने कहा कि झारखंड की आवाम मायावी जाल में नहीं फंसेगी। गरीबों के मसीहा नरेंद्र मोदी नहीं, बल्कि नीतीश कुमार और लालू प्रसाद हैं।

हिंदुस्तान में भगवा रियासत चाहनेवालों को आवाम कभी माफ नहीं करेगी़ उन्होंने चुटकी ली, मोदी अगर चाय बेचनेवाले हैं, तो हम चूहा मारनेवाले हैं। वह बुध को बाघमारा एसेम्बली हल्के में माटीगढ़ा में जदयू उम्मीदवार जलेश्वर महतो के हक में इत्तिहाद की तरफ से मुनक्कीद इंतिखाबी इजलास को खिताब कर रहे थे। वजीरे आला मांझी ने इजलास को मगही ज़ुबान में खिताब कर जम कर तालियां बटोरीं। मिस्टर मांझी ने कहा, भूईयां को वजीरे आला व पासी को एसेम्बली सदर बना कर नीतीश कुमार ने साबित कर दिया कि उनकी पार्टी समाजी इंफसाफ़ में यकीन करती है, जहां दलित, महादलित, अक़लियत समेत तमाम तबकों की इज्जत है़ हम आंबेडकर, गांधी, पटेल, बिरसा मुंडा के सच्चे फ़्लोअर हैं और इन लोगों के ख्वाब को भारत बनाने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि हम बिहार महरूम तबकों को तालीम से जोड़ रहे हैं।

पहली क्लास से लेकर यूनिवर्सिटी तक खातून की पढ़ाई को फ्री कर दिया गया है। पूरी एससी-एसटी आबादी को फूड सेक्युर्टी के दायरे में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि झारखंड की बदहाली के लिए भाजपा सबसे अहम जिम्मेवार है, क्योंकि झारखंड बनने के बाद भाजपा की ही यहां सबसे ज़्यादा दिनों तक हुकूमत रही है। बाघमारा के अलावा मांझी ने डूमरी, जामताड़ा और झरिया एसेम्बली हल्के में भी इजलास को खिताब किया।

मांझी के साथ बिहार के शहर तरक़्क़ी वज़ीर सम्राट चौधरी, साबिक़ मरकज़ी वज़ीर व कांग्रेस लीडर सुबोधकांत सहाय, जदयू एमपी गुलाम रसुल बलयावी, एमएलए अरुण मांझी,यूपी के एमएलए सुभाश यादव ने इन तकरीब को खिताब किया़।

TOPPOPULARRECENT