Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / मोदी से अपनी बराबरी बतौर तारीफ की तरह लेता हूं : शाहरुख

मोदी से अपनी बराबरी बतौर तारीफ की तरह लेता हूं : शाहरुख

बॉलीवुड स्टार शाहरख खान ने आज कहा कि वह मकबूलियत/ शोहरत के मामले में वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी से अपना मुकाबले को तारीफ के तौर पर लेते हैं| लेकिन उन्हें यह मुकाबला अटपटा सा लगता है, क्योंकि उनका और मोदी का पेशा अलग अलग है|

बॉलीवुड स्टार शाहरख खान ने आज कहा कि वह मकबूलियत/ शोहरत के मामले में वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी से अपना मुकाबले को तारीफ के तौर पर लेते हैं| लेकिन उन्हें यह मुकाबला अटपटा सा लगता है, क्योंकि उनका और मोदी का पेशा अलग अलग है|

अपनी आने वाली फिल्म ‘हैप्पी न्यू ईयर’ की तश्हीर के लिये साथी फंकारो के साथ यहां आये शाहरूख ने एक सवाल पर नामानिगारों से कहा कि, ‘वह (मोदी) हमारे मुल्क के लीडर हैं| हमारी उनसे यही उम्मीद रहती है कि वह मुल्क को आगे बढ़ायें, जबकि मुझसे लोगों की उम्मीद रहती है कि मैं मुल्क का दिल बहलाउं|

लिहाजा यह जानना अटपटा है कि (मकबूलियत के मामले में) मोदी से मेरा मुकाबला किया जाता है|लेकिन मैं इस मुकाबले को बतौर तारीफ की तरह लेता हूं|’

उन्होंने कहा, ‘मुझे इस मुकाबले के बारे में सुनकर अच्छा लग रहा है| हालांकि, मैं नहीं सोचता कि इस तरह का मुकाबला सही है, क्योंकि मेरा और उनका (मोदी का) पेशा और अलग अलग है’ शाहरख ने कियादत के लिये वज़ीर ए आज़म की तारीफ करते हुए कहा कि ‘वह (मोदी) बहुत बड़े लीडर हैं| लोग उन्हें बहुत प्यार करते हैं| उन्हें पसंद करते हैं| लिहाजा मेरे लिये उनसे मुकाबला तारीफ की बात है|’ बॉलीवुड के ‘बादशाह खान’ एक सवाल पर नाक़दीन (Critics) के एक खेमे की इस राय पर शाइश्ता इख्तेलाफ जताते दिखे कि वह अपने ‘महफूज़ दायरे’ से बाहर नहीं निकलना चाहते|

शाहरूख ने कहा, ‘मैं कोशिश करता हूं कि मेरी हर फिल्म पिछली फिल्म से अलग हो| मैं आज उन लड़कियों के साथ भी अदाकारी कर रहा हूं, जो मुझे देख देखकर जवान हुई हैं| लिहाजा मैं कुछ ठीक काम तो कर ही रहा होउंगा| ऐसा तो नहीं रहा होगा कि मैं अब तक अपने महफूज़ दायरे में ही बैठा रहा होउंगा|’ हालांकि, उन्होंने कहा, ‘फिल्म इंडसट्री में 20-22 साल काम करने के बाद मैं आज यह सोचने के हालात में जरूर हूं कि मैं ऐसे किरदार चुनूं, जिनसे मेरी अदाकारी फन और निखर सके|’

TOPPOPULARRECENT