Tuesday , September 19 2017
Home / India / मोदी । जयललित‌ मुलाक़ात सियासी नहीं : बी जे पी

मोदी । जयललित‌ मुलाक़ात सियासी नहीं : बी जे पी

चेन्नई: बी जे पी ने कहा कि जयललिता की वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात ख़ैरसिगाली मुलाक़ात थी। इस के पस-ए-पर्दा कोई सियासी वजूहात नहीं थे। 7 अगस्त को क़ौमी यौम हैंडलूम के इफ़्तेताह के लिए मोदी यहां आए थे और उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर जयललिता से उनकी क़ियामगाह पर मुलाक़ात की और चीफ़ मिनिस्टर ने उनके एज़ाज़ में ज़ुहराना तर्तीब दिया।

कोइमबतोर से मौसूला इत्तेला के बमूजब बी जे पी ने आज कहा कि वो 10 और 11 अगस्त को शराबबंदी के नफ़ाज़ का मुतालिबा करते हुए रियासत गैर एहतेजाज करेगी और तमिलनाडू में तमाम शराब के शोरूमस बंद करने का मुतालिबा करेगी। भोपाल से मौसूला इत्तेला के बमूजब इंतेख़ाबात के दौरान सियासतदानों की पूजा कोई नई बात नहीं है लेकिन बरसर‍-ए‍-इक़्तेदार बी जे पी ने एक नया तनाज़ा खड़ा कर दिया।

जबकि उसने ऐलान किया कि इस के कारकुन हर हफ़्ता दो मर्तबा रतलाम लोक सभा हल्क़ा-ए‍-इंतेख़ाब के ज़िमनी इंतेख़ाबात होने तक हर मर्कज़ राय दही पर हनूमान चालीसा का पाठ करेंगे। बरहम अपोज़िशन ने इल्ज़ाम आइद किया कि बी जे पी राय दहिंदों की सफ़-आराई की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि ख़ुद-साख़्ता मोदी लहर अब ख़त्म हो चुकी है।

पार्टी के रियासती आमिला के रुकन दौलत भाव‌सार ने ऐलान किया है कि हर मंगल और हफ़्ता को 2000 मराकज़ राय दही पर पार्टी कारकुन हनूमान चालीसा का पाठ करेंगे।

TOPPOPULARRECENT