Wednesday , September 20 2017
Home / Delhi News / मोहसिन शेख हत्या में जमानत ‘गांधी के देश में गोडसे मानसिकता की बू है’- शहज़ाद पूनावाला

मोहसिन शेख हत्या में जमानत ‘गांधी के देश में गोडसे मानसिकता की बू है’- शहज़ाद पूनावाला

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के पुणे में एक आईटी इंजीनियर की हत्या के सिलसिले में बांबे हाईकोर्ट ने आज तीन आरोपियों की जमानत दे दी है। 2 जून को 28 साल के मोहसिन शेख की कुछ लोगों ने बुरी तरह से पीट कर हत्या कर दी थी। बताया जाता है कि हिंदू राष्ट्र सेना ने कार्यकर्ताओं पर इसका हाथ था। शेख की हत्या के आरोप में देसाई समेत 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। फिलहाल ये सभी जेल में हैं जिसमें तीन आरोपियों को कोर्ट ने जमानत दी है।

जमानत मिलने के बाद कांग्रेस के सीनियर नेता और महाराष्ट्र कांग्रेस में सचिव शहजाद पुनावाला ने सवाल उठाया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि जिस आधार पर पुणे के मोशीन शेख़ के हथियारों को ज़मानत दी गयी है मैं उसकी कड़ी निंदा करता हूँ। जो तर्क जज ने अपनाया है वो क़ानून और संविधान से परे है। शहज़ाद पूनावाला ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि ‘गांधी के मुल्क में उस ऑर्डर से गोडसे की मानसिकता की बू आती है।’

लिहाज़ा मैं क़ानूनी रूप से इसके ख़िलाफ़ अपील करूँगा सप्रीम कोर्ट में और इसको ख़ारिज कराने की कोशिश करूँगा । दो साल से यह एक नया भारत बन रहा है जिसमें कभी गांधी के चरखे के साथ मोदी दिखाई देते है और कभी गांधी विचारधारा को हटाकर गोडसे की विचारधारा सरकार और कोर्ट भी लागू कर देते है ।

क्या यह कारण जायज़ ठहराया जाता अगर मारनेवाले मुसलमान होते और मरनेवाला हिंदू? क्या तब यह तर्क अपनाते मुंबई हाई कोर्ट के जज ? यह तर्क नहीं कुतर्क है और इसको ख़ारिज करवाना होगा । ऐसे तर्क हिट्लर की जर्मनी में दिया जाता था यहूदियों के ख़िलाफ़। मोदी युग का भारत भी उसी दिशा में चल रहा है। पर हम ऐसा होने नहीं देंगे।

TOPPOPULARRECENT