Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / मौजूदा सूरत-ए-हाल में रियासत की तरक़्क़ी ग़ैर यक़ीनी

मौजूदा सूरत-ए-हाल में रियासत की तरक़्क़ी ग़ैर यक़ीनी

हैदराबाद। 2 नवंबर ( सियासत न्यूज़) एन टी आर ट्रस्ट भवन तेलगुदेशम पार्टी ऑफ़िस में आज सदर तेलगुदेशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू ने मुख़्तलिफ़ क़ाइदीन की मौजूदगी में यौम तासीस आंधरा प्रदेश के मौक़ा पर क़ौमी पर्चम लहराया ।

हैदराबाद। 2 नवंबर ( सियासत न्यूज़) एन टी आर ट्रस्ट भवन तेलगुदेशम पार्टी ऑफ़िस में आज सदर तेलगुदेशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू ने मुख़्तलिफ़ क़ाइदीन की मौजूदगी में यौम तासीस आंधरा प्रदेश के मौक़ा पर क़ौमी पर्चम लहराया ।

मिस्टर नायडू ने इस मौक़ा पर मौजूद क़ाइदीन-ओ-कारकुनों से ख़िताब के दौरान पोटी सिरी रामलो और बी राम कृष्णा राव को ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश करते हुए कहा कि पोटी सिरी रामलो ने मद्रास से अलहिदगी और तेलगु अवाम को मुत्तहिद करने केलिए अपनी जान की क़ुर्बानी पेश की । जब कि बी राम कृष्णा राव ने हैदराबाद को आंधरा प्रदेश में शामिल करने केलिए अपने चीफ़ मिनिस्ट्री के ओहदा की क़ुर्बानी देते हुए क़ियाम आंधरा प्रदेश में कलीदी किरदार अदा किया ।

मिस्टर नायडू ने रियासत आंधरा प्रदेश की 55वीं यौम तासीस के मौक़ा पर तेलगु अवाम को मुबारकबाद पेश करते हुए कहा कि तशकील आंधरा प्रदेश के बाद आंधरा प्रदेश केलिए दो दहिय बेइंतिहा सब्र आज़मा रहे ।

उन्हों ने बताया कि कांग्रेस ने क़ियाम आंधरा प्रदेश के बाद से तरक़्क़ी और फ़लाही इक़दामात को नदारद करदिया था । रियासत में तेलगु अवाम की इज़्ज़त नफ़स को पामाल किया जा रहा था और अवाम की तरक़्क़ी केलिए किसी किस्म के इक़दामात नहीं किए जा रहे थे ।

TOPPOPULARRECENT